On this day, March 23: India defeated Bangladesh in the last ball thriller in ICC World T20 2016
धोनी ने रन आउट कर आखिरी गेंद पर जिताया मैच। फोटो साभार © ट्विटर

निदहास ट्रॉफी फाइनल के अंतिम ओवरों में एक समय ऐसा लगने लगा कि भारत के हाथों से ये मैच अब निकल गया है। आखिरी गेंद पर भारत को जीत के लिए पांच रनों की दरकार थी। दिनेश कार्तिक ने इस गेंद पर छक्‍का लगाकर बांग्‍लादेश के जबड़े से जीत को छीन लिया। कुछ ऐसा ही हाल भारत ने साल 2016 में बांग्‍लादेश का आज ही के दिन किया था। बांग्‍लादेश की टीम को जीत के लिए तीन गेंदों पर दो रन चाहिए थे। लगा मानों अब ये मैच पूरी तरह से बांग्‍लादेश की टीम की पकड़ में आ गया है। फिर भारत के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी ने विकेट के पीछे से कुछ हुसैन बोल्‍ट वाले स्‍टाईल में दौड़ लगाई और टीम को इस रोमांचक मैच में जिता दिया।

क्‍यों दीपिका पादुकोण के साथ विज्ञापन शूट करने से विराट कोहली को है एतराज
क्‍यों दीपिका पादुकोण के साथ विज्ञापन शूट करने से विराट कोहली को है एतराज

इस मैच में भारत ने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए बांग्‍लादेश की टीम को जीत के लिए 147 रनों का लक्ष्‍य दिया। टी-20 के लिहाज से बेहद कमजोर टोटल देने के कारण बांग्‍लादेश की जीत आसान लग रही थी। बेंगलुरु में खेले गए इस मैच में बांग्‍लादेश ने 19 ओवरों में छह विकेट खोकर 136 रन बना लिए थे। आखिरी ओवर में जीत के लिए बांग्‍लादेश को 11 रनों की दरकार थी।

ये ओवर हार्दिक पांड्या से कराया गया। मैदान पर थे बांग्‍लादेश के महमदुल्‍लाह और मुश्फिकुर रहीम। पहली गेद पर एक रन बनाने के बाद ओवर की दूसरी गेंद पर रहीम ने चौका जड़ दिया। अब जीत के लिए चार गेंदों पर छह रन की दरकार थी। तीसरी गेंद पर भी रहीम ने चौका मारा। बांग्‍लादेश की जीत के लिए तीन गेंदों पर दो रन बाकी रह गए थे। ड्रेसिंग रूम में खिलाड़ी जीत का जश्‍न मनाने की मुद्रा में आ गए। भारतीय दर्शकों को भी लगने लगा मानों ये मैच हाथ से निकल गया हो।

पांड्या के ओवर की चौथी गेंद पर मुश्फिकुर रहीम और पांचवी गेंद पर महमदुल्‍लाह शार्ट लगाने के आउट हो गए। अब जीत के लिए एक गेंद पर दो रन की दरकार थी, लेकिन मैच ड्रा करने के लिए बांग्‍लादेश को सिर्फ एक रन ही बनाना था। पांड्या आखिरी गेंद को बल्‍लेबाज से मिस कराने में सफल रहे, लेकिन फिर भी दोनों खिलाड़ी एक रन मारने के लिए दौड़ पड़े। ग्‍लबज में गेंद आते ही महेंद्र सिंह धोनी महशूर रेसर हुसैन बोल्‍ट स्‍टाइल में विकेट्स की तरफ दौड़े। बोल विकेट पर मारने के बजाए धोनी ने खुद अपने हाथों से विकेट गिराना उचित समझा और वो इसमें कामयाब भी रहे। इस तरह भारत ने ये रोमांचक मैच एक रन से जीत लिया।