Outstation players will not be allowed to participate in TNPL: SC
TNPL Trophy ©TNPL media release

तमिलनाडु प्रीमियर लीग का तीसरा सीजन बिना किसी बदलाव के शुरू होगा। सुप्रीम कोर्ट ने आज साफ निर्देश दिए हैं कि तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिशन में रजिस्टर्ड खिलाड़ी ही इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेंगे। पीटीआई में छपी खबर के मुताबिक मुख्य जस्टिस दीपक मिश्रा ने प्रशासकों की समिति के उस फैसले को बरकरार रखा है, जिसमें बाहर के राज्यों को खिलाड़ी को टीएनपीएल में खेलने की इजाजत नहीं है।

वनडे सीरीज में भी जीत की लय बरकरार रखना चाहेगी टीम इंडिया
वनडे सीरीज में भी जीत की लय बरकरार रखना चाहेगी टीम इंडिया

टीएनपीएल के सीनियर प्रवक्त रंजीत कुमार का मानना है कि अगर उनका स्टेट बोर्ड एनओसी देता है तो बाहर के खिलाड़ियों को इस टूर्नामेंट में खेलने की इजाजत मिलनी चाहिए। हालांकि सीओए के सीनियर प्रवक्ता पराग त्रिपाठी ने बीसीसीआई के ड्रॉफ्ट का हवाला देते हुए इसे गलत बताया है, जिसके मुताबिक बाहर के खिलाड़ियों को किसी स्टेट टूर्नामेंट में हिस्सा लेने की इजाजत नहीं है। तमिलनाडु प्रीमियर लीग की शुरुआत आज से हो रही है।

सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से टीएनपीएल के उस नियम को झटका लगा है जिसमें उन्होंने हर टीम को दो बाहर के खिलाड़ियों को टीम में रखने की इजाजत दी थी। 22 जून को दिल्ली में हुई बीसीसीआई की विशेष आम बैठक में इस प्रस्ताव को रखा गया था। लेकिन सीओए ने इस बैठक को ही अनाधिकारिक घोषित कर दिया है।