Pakistan players clear Yo-Yo test ahead of Zimbabwe T20Is tri-series
Pakistan Cricket Team(File Photo) © Getty Images

पाकिस्‍तान की टीम को एक जुलाई से जिम्‍बाब्‍वे जाकर टी-20 ट्राई सीरीज खेलनी हैं। इस टूर्नामेंट से पहले पाकिस्‍तान टीम मैनेजमेंट के लिए एक अच्‍छी खबर आई है। सभी खिलाड़ियों फिटनेस के पैमाने पर खरे साबित हुए। उन्‍होंने यो-यो टेस्‍ट पास कर लिया है। पाकिस्‍तान में यो-यो टेस्‍ट पास करने का स्‍कोर 17.4 रखा गया है, जिसे काफी कठिन माना जाता है। इसके बावजूद सभी खिलाड़ियों का टेस्‍ट पास कर लेने से पाकिस्‍तान के कोच मिकी ऑर्थर काफी खुश हैं।

जिम्‍बाब्‍वे में धमाके के बाद ऑस्‍ट्रेलिया के दौरे पर गहराए संकट के बादल
जिम्‍बाब्‍वे में धमाके के बाद ऑस्‍ट्रेलिया के दौरे पर गहराए संकट के बादल

ऑर्थर ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, “हमने टेस्‍ट पास करने का काफी कड़ा बैंचमार्क बनाया था। जिम्‍बाब्‍वे दौरे से पहले सभी 19 खिलाड़ियों ने इसे पास कर लिया है। यो-यो टेस्‍ट के रिजल्‍ट से मैं काफी खुश हूं। हमने अपने खिलाड़ियों के अच्‍छी फिटनेस रखने का एक कल्‍चर स्‍थापित किया था। सभी खिलाड़ी इसमें खरे साबित हुए।”

भारत में 16.1 है यो-यो टेस्‍ट पास करने का पैमान

यो-यो टेस्‍ट को लेकर इन दिनों भारत में भी काफी चर्चाएं हैं। इंग्‍लैंड दौरे से पहले कई बड़े खिलाड़ी यो-यो टेस्‍ट में फेल होने की शर्मिंदगी झेल चुके हैं। खासबात ये है कि भारत में यो-यो टेस्‍ट पास करने का पैमान महज 16.1 है। फिर भी भारतीय खिलाड़ी इसे पास नहीं कर पाते। कोच रवि शास्‍त्री इस टेस्‍ट को और कड़ा बनाकर इसे 16.3 करना चाहते हैं।

यो-यो टेस्‍ट में भारत के बड़े-बड़े खिलाड़ी हुए फेल

भारत अफगानिस्‍तान टेस्‍ट से पहले मोहम्‍मद शमी इस टेस्‍ट में फेल हो गए थे। इंग्‍लैंड दौरे के लिए अंबाती रायडू को सिलेक्‍टर्स ने चुना था, लेकिन यो-यो टेस्‍ट में फेल होने के बाद उन्‍हें बाहर का रास्‍ता दिखा दिया गया। इसी तरह आईपीएल में अच्‍छा प्रदर्शन कर संजू सेमसन ने इंडिया ए टीम में जगह बनाई थी। यो-यो टेस्‍ट के खराब नतीजों के कारण उन्‍हें इंग्‍लैंड दौरा में शामिल होने से हाथ धोना पड़ा।