PCB chief Najam Sethi complains about India’s strict visa regime
PCB chairman Najam Sethi © AFP

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजम सेठी ने दावा किया कि भारत की ‘‘ सख्त ’’ वीजा नीति के कारण यहां चल रही आईसीसी की बैठक में भाग लेने के लिए उन्हें काफी लंबी यात्रा करनी पड़ी। सेठी के दावे को हालांकि विदेश मंत्रालय ने यह कहते हुए खारिज कर दिया कि ‘‘ यह कोई बड़ी बात नहीं ’’ ।

सेठी ने दावा किया कि लाहौर से कोलकाता पहुंचने में उन्हें 19 घंटें लग गये। सेठी ने पीटीआई से कहा , ‘‘ यहां पहुंचने में मुझे 19 घंटे लगे और इस दौरान मुझे काफी असुविधा और कठिनइयों का सामना करना पड़ा। अगर हमें सही तरीके से वीजा मिले तो लाहौर से यहां पहुंचने में सिर्फ दो घंटे का समय लगेगा। ’’

चीन के दौरे पर गये विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि सभी वीजा आवेदनों को तय प्रक्रिया से गुजरना होता है। उन्होंने कहा , ‘‘ यह कोई बड़ी बात नहीं। इसके लिए एक प्रक्रिया है जिसका पालन दोनों देशों के लोगों को करना होता है। जब कोई भारतीय पाकिस्तान की यात्रा पर जाता है तो उसे भी तय प्रक्रिया से गुजरना होता है। ’’ रवीश ने कहा , ‘‘ वह ( सेठी ) यहां किसी खास वजह से आये हैं , कोलकाता में एक बैठक में भाग लेने। इसलिए उन्हें एक शहर का वीजा दिया गया है। वह शिकायत कर सकते हैं या कुछ भी कह सकते हैं लेकिन इस में कुछ भी नया नहीं है। ’’

सेठी के साथ पीसीबी के दूसरे अधिकारी कल देर रात यहां पहुंचे। सेठी ने कहा , ‘‘ वीजा नियम इतने सख्त है कि हम पाकिस्तान से सीधे दिल्ली या कोलकाता नहीं आ सकते। मुझे लाहौर से दुबई जाने वाला विमान लेना पड़ा और फिर वहां से कोलकाता का।’’ पीसीबी का कोई प्रतिनिधिमंडल 2015 के बाद पहली बार भारत आया है। 2015 में प्रतिनिधिमंडल दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट संबंधों को बहाल करने को लेकर बातचीत के लिए यहां आया था।