PCB decides not to take any action against all-rounder Mohammad Hafeez
Mohammad Hafeez © Getty Images

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) द्वारा संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के कारण लगाए गए प्रतिबंध पर मीडिया में नकारात्मक बयान देने वाले पाकिस्तान के गेंदबाज मोहम्मद हफीज पर कोई पेनाल्टी नहीं लगाई जाएगी। हफीज ने मीडिया में आईसीसी के फैसले की अलोचना की थी। इस पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने उन्हें तीन सदस्यीय अनुशासन समिति के सामने अपनी बात रखने का वक्त दिया था।

19 साल के राशिद खान का नहीं थम रहा तूफान, विरोधी हुए परेशान
19 साल के राशिद खान का नहीं थम रहा तूफान, विरोधी हुए परेशान

वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक हफीज ने समिति के सामने सफाई देते हुए कहा कि उनका मकसद आईसीसी की नियमों की आलोचना करना नहीं था।

हफीज ने कहा, “मेरी मंशा आईसीसी के प्रोटोकॉल की आलोचना करना नहीं था और न ही मैंने अपने इंटरव्यू में किसी बोर्ड का नाम लिया। उस इंटरव्यू में मैंने गेंदबाजी एक्शन के स्तर को सुधारने संबंधी सुझाव दिए थे ताकि क्रिकेट प्रशंसकों को इसे समझने में कोई परेशानी न हो। दुर्भाग्यवश मेरे बयान को गलत तरीके से पेश किया गया।”

इस तीन सदस्यीय समिति में पीसीबी निदेशक (क्रिकेट संचालन) हारून रशीद, मीडिया निदेशक अमजद हुसैन और महाप्रबंधक सलमान नसीर शमिल थे। इन तीनों ने हफीज की सफाई को कबूल कर लिया और किसी तरह की पेनाल्टी नहीं लगाई।

हफीज ने बीबीसी उर्दू को दिए अपने इंटरव्यू में कहा था कि एक्श्न की जांच के दौरान उन्होंने पाया था कि उनकी कोहनी आईसीसी की तय सीमा 15 डिग्री से कुछ डिग्री ज्यादा ही घूमती है। उन्होंने कहा था कि उन्हें इस जांच के तरीके पर शक है।