Plea in High Court for putting on hold DDCA elections
Feroz Shah Kotla stadium © Getty Images

दिल्ली हाईकोर्ट में शुक्रवार को एक याचिका दायर की गई जिसमें दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के 30 जून को होने वाले चुनावों पर रोक लगाने की अपील की गई है।

ऑलराउंडर मेहदी हसन का विंडीज के खिलाफ अभ्‍यास मैच में खेलना मुश्किल
ऑलराउंडर मेहदी हसन का विंडीज के खिलाफ अभ्‍यास मैच में खेलना मुश्किल

यह याचिका न्यायमूर्ति ए के चावला के पास आई जिन्होंने कहा कि इस क्रिकेट संस्था के चुनाव संबंधी मामलों की इससे पहले खंडपीठ ने सुनवाई की थी और इस तरह की पीठ को भी इस मामले में सुनवाई करनी चाहिए।

उन्होंने याचिका पर सुनवाई के लिए 25 जून की तिथि तय की। रवि मेहरा ने अपनी याचिका में कहा है कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) का संविधान तैयार होने तक डीडीसीए के चुनाव नहीं होने चाहिए।

गौरतलब है कि वर्ष 1983 विश्व कप के नायक कपिल देव , मोहिंदर अमरनाथ और के श्रीकांत डीडीसीए के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ रहे अपने साथी मदन लाल का समर्थन कर रहे हैं। बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना की पत्नी शशि खन्ना उपाध्यक्ष पद के लिए अपना दावा पेश करेंगी। पूर्व टेस्ट खिलाड़ी मदनलाल, वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा और उच्चतम न्यायालय के एडवोकेट विकास सिंह अध्यक्ष पद के लिए मैदान में हैं।

शशि खन्ना के अलावा एक और महिला दावेदार सरोज कत्याल भी मैदान में हैं, जो विनोद तिहारा-नरिंदर बत्रा गुट की हैं। सरोज डीडीसीए के अधिकारी अशोक कत्याल की पत्नी हैं। मदनलाल के गुट को सीके खन्ना और चेतन चौहान के समर्थकों का समर्थन हासिल है। इस गुट की तरफ से सचिव पद के लिए मनजीत सिंह , संयुक्त सचिव पद के लिये पुष्पेंदर सिंह और कोषाध्यक्ष पद के लिये दीपक सिंघल मैदान में हैं।