Ravi Shastri defends Ajinkya Rahane’s omission from first two Test matches
अजिंक्य रहाणे © AFP (File Photo)

भारतीय कोच रवि शास्त्री ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले दो टेस्ट मैचों से अंजिक्य रहाणे  को बाहर रखने के फैसले को सही बताया है। उन्होंने कहा कि फार्म को देखते हुए रोहित शर्मा सर्वश्रेष्ठ विकल्प था। विदेशों में भारत के सबसे सफल बल्लेबाजों में से एक रहाणे को केपटाउन और सेंचुरियन टेस्ट में नहीं चुना गया। भारत दोनों मैचों में हार गया था।

इसके बाद टीम मैनेजमेंट को कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा और अब वह रहाणे को तीसरे टेस्ट के लिए टीम में खिलाने के बारे में सोच रहे हैं। शास्त्री से जब चयन नीति के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘अगर अजिंक्य पहले टेस्ट में खेलता और अच्छा प्रदर्शन नहीं करता तो आप यही सवाल करते कि रोहित को क्यों नहीं उतारा गया। रोहित खेला और अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाया और इसलिए आप मुझसे पूछ रहे हो कि अजिंक्य को क्यों नहीं खिलाया गया।’’

टीम इंडिया को टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले दक्षिण अफ्रीका आ जाना चाहिए था: रवि शास्त्री
टीम इंडिया को टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले दक्षिण अफ्रीका आ जाना चाहिए था: रवि शास्त्री

उन्होंने कहा, ‘‘यही बात तेज गेंदबाजों के चयन के मामले में लागू होती है। आपके पास विकल्प हैं। टीम मैनेजमेंट ने सर्वश्रेष्ठ विकल्पों पर चर्चा की। वे इस पर कायम रहे और उसके अनुसार ही उन्होंने टीम चुनी। विदेशों में आप मौजूदा फार्म और हालात को तवज्जो देते हैं। आप देखते हैं कि कौन सा खिलाड़ी खास तरह की परिस्थितियों में जल्दी तालमेल बिठा सकता है।’’ लेकिन अगर कल और आज के अभ्यास सत्र को संकेत माना जाए तो रहाणे के तीसरे टेस्ट के लिये अंतिम एकादश में लौटने की संभावना है।

मुख्य कोच ने कहा कि विदेशी दौरों में टीम को परिस्थितियों को ध्यान में रखकर प्लेइंग इलवेन का चयन करना पड़ता है।उन्होंने कहा, ‘‘विदेशों में टीम में बदलाव करना आसान होता है। भारत में आपको बदलाव की जरूरत नहीं पड़ती है क्योंकि आप परिस्थितियों को जानते हो।’’