Ricky Ponting: Australian bowlers should bowl slower deliveries early
Ricky Ponting (File Photo) © Getty Images

ऑस्‍ट्रेलिया को मंगलवार शाम को सीरीज के तीसरे वनडे मैच में भी मेजबान इंग्‍लैंड से करारी हार का सामना करना पड़ा। इस मैच में इंग्‍लैंड ने वनडे क्रिकेट का सबसे बड़ा स्‍कोर खड़ा कर दिया, जिससे पार पाना ऑस्‍ट्रेलिया के लिए नामुम्‍किन साबित हुआ। इंग्‍लैंड के 50 ओवरों में 481 रन के विशाल स्‍कोर के सामने ऑस्‍ट्रेलिया की पारी 239 रन पर ही सिमट गई।

इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया पर दर्ज की वनडे में सबसे बड़ी जीत, सीरीज पर कब्जा
इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया पर दर्ज की वनडे में सबसे बड़ी जीत, सीरीज पर कब्जा

पहले विकेट के लिए इंग्‍लैंड के जेसन रॉय और जॉनी बेयरस्टो ने 159 रन जोड़े। बेयरस्‍टो ने 92 गेंद पर 139 रन बनाकर अपने इरादे साफ कर दिए। 25 ओवर पूरे होने से पहले ही मेजबान टीम 200 रन बना चुकी थी। पारी में एलेक्‍स हेल्‍स ने 16 चौकों और पांच छक्‍को की मदद से 147 रन बनाए। मध्‍यक्रम में बल्‍लेबाजी करने आए कप्‍तान इयोन मॉर्गन ने रही कही कसर पूरी कर दी। उन्‍होंने 30 गेंदों पर 67 रन बनाकर टीम के स्‍कोर को 481 तक पहुंचा।

ऑस्‍ट्रेलिया के असिस्‍टेंट कोच रिकी पोंटिंग ने स्‍काय स्‍पोर्ट्स क्रिकेट से बातचीत के दौरान कहा, “यहां पूरी तरह से इंग्‍लैंड की मास्‍टरक्‍लास बल्‍लेबाजी का नजारा देखने को मिला। हमारे गेंदबाज अपने काम में खरे नहीं उतरे। वहीं, इंग्‍लैंड के शुरुआती तीन बल्‍लेबाज जेसन रॉय (82), जॉनी बेयरस्‍टो (139) और एलेक्‍स हेल्‍स (147) ने लाजवाब बल्‍लेबाजी की। जितनी अच्‍छी पिच ये बल्‍लेबाजी के लिए थी, उतना ही अच्‍छा प्रदर्शन इंग्‍लैंड के बल्‍लेबाजों ने किया।

पोंटिंग ने कहा, ” हमारे गेंदबाजों ने देरी कर दी। डेथ ओवर्स में जाकर उन्‍हें समझ आया कि उन्‍हें स्‍लो डिलीवरी भी करनी चाहिए। हम मैच में किसी भी वक्‍त इंग्‍लैंड के करीब नहीं थे।”