Rishabh Pant has caliber to replace MS Dhoni in future, says Sanjay Manjrekar
Sanjay Manjrekar © AFP

भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी संजय मांजरेकर का मानना है कि दिल्‍ली की रणजी ट्राफी टीम के कप्‍तान रह चुके रिषभ पंत में काबिलियत है कि वो भविष्‍य में महेंद्र सिंह धोनी की जगह ले सकते हैं। संजय मांजरेकर ने कहा कि धोनी भारतीय टीम के मध्‍यक्रम का बेहद महत्‍वपूर्ण हिस्‍सा हैं। उनकी मौजूदगी से भारतीय टीम को आखिरी तक काफी मजबूती मिलती है, लेकिन समय आ गया है कि हमे अभी से धोनी के विकल्‍प की खोज शुरू कर देनी चाहिए।

बीते कुछ समय में रिषभ पंत घरेलू क्रिकेट में अपनी फार्म से जूझते हुए नजर आए हैं। टीम को रणजी ट्राफी के फाइनल तक पहुंचाने के बावजूद भी डीडीसीए ने भी कप्‍तानी के पद से हटा दिया था। टाइम्‍स ऑफ इंडिया अखबार से बातचीत के दौरान संजय मांजरेकर ने कहा, “सिलेक्‍टर दिनेश कार्तिक और पार्थिव पटेल को धोनी के विकल्‍प के रूप में ट्राई करते रहे हैं। नए जनरेशन के खिलाड़ी रिषभ पंत, संजू सेमसन और इशान किशन को अबतक टेस्‍ट नहीं किया गया है।”

मांजरेकर ने कहा, “निदास ट्राफी 2018 में भारतीय टीम के मुख्‍य छह खिलाड़ी नहीं खेल रहे हैं। उनके स्‍थान पर दूसरी पाली के खिलाड़ी इस टूर्नामेाट में भारत का प्रतिनिधित्‍व करेंगे। दिनेश कार्तिक और रिषभ पंत को निदास ट्राफी  में जगह दी गई है।” उन्होंने कहा, “पंत ने अबतक अपने टी20 करियर में केवल दो अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेले हैं। बीते साल जुलाई में उन्‍होंने वेस्‍टइंडीज के खिलाफ अपना आखिरी टी2, मैच खेला था। ऐसे में इन खिलाडि़यों को निदास ट्राफी में मौका दिया जाना चाहिए।”

मांजरेकर ने कहा, “इन युवा खिलाडि़यों की योग्‍यता जांचने की हमे जरूरत है। भारत के पास विकेट कीपर बल्‍लेबाजों की सख्‍त कमी है। ऐसे में निदास ट्राफी के सभी मैचों में रिषभ पंत को मौका दिया जाना चाहिए। मनीष पांडे पर उन्‍होंने कहा, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में 79 रन की पारी खेलने के अलावा उन्‍होंने कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया है। उनके खेल में निरंतरता की कमी है। जनवरी 2016 में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ शतकीय पारी खेलने के अलावा उनकी फार्म निरंतर नहीं रही है।

मांजरेकर ने कहा, गेंदबाजी फ्रंट पर भारतीय टीम एक दम अच्‍छी है। हमारे पास अगली जनरेशन के गेंदबाज टीम में हैं, लेकिन बल्‍लेबाजी में हमे धोनी जैसे बड़े बल्‍लेबाज का टीम में विकल्‍प नजर नहीं आता है। रैना ने टीम में वापसी की है। उन्‍हें निरंतर खेल दिखाना ही होगा।