Rohit Sharma: Three low scores is not bad form
रोहित शर्मा © Getty Images

भारत के उप कप्तान रोहित शर्मा खुश हैं कि उनकी फार्म में वापसी टीम की दक्षिण अफ्रीकी सरजमीं पर मिली पहली वनडे सीरीज जीतने के दौरान हुई है। हालांकि उन्होंने कहा कि वह पिछली कम स्कोर वाली पारियों से भी परेशान नहीं हैं। रोहित ने कल पांचवें वनडे में 115 रनों की मैचविनिंग पारी खेली और भारत की 73 रन की जीत में अहम भूमिका अदा की जिससे टीम ने छह मैचों की सीरीज में 4-1 की अजेय बढ़त बना ली। अब सीरीज का आखिरी मैच 16 फरवरी को सेंचुरियन में होगा।

मैच के बाद रोहित ने कहा, ‘‘मैं तीन मैचों में आउट हुआ, आप तीन मैचों के बाद आप कैसे कह सकते हो कि मैं खराब फार्म में हूं। आप लोग एक मैच के बाद ही किसी को अच्छी फार्म में कर देते हो और अगर कोई तीन मैचों में अच्छा नहीं कर पाता तो आप कह देते हो कि वो खराब फार्म में है।’’

पोर्ट एलिजाबेथ वनडे में 73 रनों से जीत हासिल कर टीम इंडिया ने रचा इतिहास
पोर्ट एलिजाबेथ वनडे में 73 रनों से जीत हासिल कर टीम इंडिया ने रचा इतिहास

उन्होंने दक्षिण अफ्रीका में अपने पिछले खराब रिकार्ड का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘2013 में यह अलग बात थी। मैं तब मध्यक्रम बल्लेबाज से सलामी बल्लेबाज की भूमिका में आया था। मैं अब जिस तरह से बल्लेबाजी कर रहा हूं, इसमें काफी निखार हुआ है। 2013 से पहले या 2013 में जो कुछ हुआ, उसे भूल जाओ।’’

रोहित ने कहा, ‘‘इस तरह के हालात आते हैं, जब आप अपनी पूरी कोशिश करते हो, लेकिन चीजें आपके हिसाब से नहीं होती। इसलिए उस समय अहम यही होता है कि आप रिलैक्स करो और इस बारे में सोचो कि अगले मैच में आपको क्या करने की जरूरत है क्योंकि हर दिन नया दिन होता है।’’

उन्होंने साथ ही कहा, ‘‘मेरा शतक अब बन गया है, जो बीती बात हो गया है और अब जो मैं अगला मैच खेलूंगा, तो उसमें यह शतक इतना मायने नहीं रखेगा। इसलिये वर्तमान में बने रहना ज्यादा महत्वपूर्ण है और ड्रेसिंग रूम में हम इसी के बारे में बात करते हैं।’’