Sachin tendulkar Explains in palace of describe how Root played Kuldeep yadav successfully
Sachin-Tendulkar © AFP

दिग्‍गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर का मानना है कि इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान जो रूट भले ही चाइनामैन कुलदीप यादव की फिरकी का तिलिस्म तोड़ने में कामयाब रहे हों लेकिन एक अगस्त से शुरू हो रही पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में पिच सूखी रहने पर वह अभी भी उपयोगी साबित हो सकते हैं।

इशांत ने ढाया था अंग्रेजों पर कहर, 28 साल बाद भारत ने जीता था लॉडर्स टेस्‍ट
इशांत ने ढाया था अंग्रेजों पर कहर, 28 साल बाद भारत ने जीता था लॉडर्स टेस्‍ट

तेंदुलकर ने इंटरव्यू में कहा, ‘मैने टीवी पर जो देखा, उससे लगा कि रूट ने कुलदीप की गेंद को उसके हाथ में ही भांप लिया था जिसका उसे फायदा मिला। कुलदीप की कलाई का एक्शन पेचीदा है और गेंद छूटने के बाद उसे भांपना बहुत मुश्किल है। रूट ने उसकी कलाई की पोजिशन को जल्दी भांप लिया और वह उसे खेलने में कामयाब रहे।’

यह पूछने पर कि क्या यह भारतीय टीम के लिए खराब संकेत है, तेंदुलकर ने कहा , ‘मुझे नहीं लगता कि इंग्लैंड के दूसरे बल्लेबाज कुलदीप को इतना अच्छे से खेल पा रहे हैं। इंग्लैंड में इस समय जो मौसम है, धूप से पिचें सूखी होंगी। ऐसे में कुलदीप और बाकी स्पिनर काफी उपयोगी साबित होंगे।पिचें इसी तरह सपाट और सूखी रहीं तो भारत के लिए अच्छा मौका है। पिच हरी-भरी होने पर इंग्लैंड के तेज गेंदबाज हावी रहेंगे।’

‘खेलेगी भुवी और बुमराह की कमी’

सचिन ने स्वीकार किया कि पहले तीन टेस्ट में भुवनेश्वर कुमार और पहले मैच में जसप्रीत बुमराह की कमी भारत को खलेगी ।

तेंदुलकर ने कहा, ‘ भुवी की चोट भारत के लिए करारा झटका है। मुझे उससे बड़ी उम्मीदें थी। गेंद को स्विंग कराने की उसकी क्षमता को देखते हुए वह टेस्ट सीरीज में काफी अहम भूमिका निभा सकते थे।

उन्होंने कहा , ‘ भुवी ने 2014 के दौरे पर इंग्लैंड में रन भी बनाए थे। वह निचले क्रम पर भागीदारियां निभा सकते थे। वैसे तेज गेंदबाजी में हमारे पास विकल्प की कमी नहीं है।’

बुमराह के बारे में उन्होंने कहा , ‘वनडे सीरीज में उसकी कमी खली क्योंकि वह डैथ ओवरों के चैम्पियन गेंदबाज हैं। उन्‍होंने टेस्ट क्रिकेट में अच्छी शुरूआत की थी और यह सीरीज उनके लिए अच्छा मौका थी। वह दूसरे टेस्ट में वापसी कर सकते हैं।’

‘कोहली का खराब फॉर्म चिंता का विषय लेकिन सीरीज पर फर्क नहीं पड़ेगा’

कप्तान विराट कोहली का 2014 का खराब फार्म चर्चा का विषय है लेकिन तेंदुलकर ने कहा कि इसका आगामी सीरीज पर असर नहीं पड़ेगा ।

उन्होंने कहा, ‘विराट के 2014 के प्रदर्शन का आगामी सीरीज से कोई सरोकार नहीं है। यदि आप मुझसे पूछें कि क्या मुझे विराट से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है तो मेरा जवाब होगा कि सिर्फ विराट ही क्यों, मुझे पूरी टीम से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है। टीम को अच्छा खेलना होगा।’