Sachin Tendulkar: Give Steven Smith, David Warner and Cameron Bancroft some time to overcome ball-tampering scandal
स्‍टीवन स्मिथ © Getty Images

ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान स्टीवन स्मिथ, पूर्व उपकप्‍तान डेविड वार्नर और बल्‍लेबाज कैमरून बैनक्रॉफ्ट के साथ बॉल टेंपरिंग की घटना में शामिल होने के बाद न सिर्फ अपने देश में अपराधियों की तरह सलूक किया जा रहा है, बल्कि बाहरी मुल्‍कों में भी इनकी खूब आलोचना हो रही है। मास्‍टर ब्‍लास्‍टर सचिन तेंदुलकर ने इसपर कहा है कि ये ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी बॉल टेंपरिंग में शामिल थे। इसके लिए उन्‍हें सजा भी दी जा चुके हैं। वो अपने किए के लिए माफी भी मांग चुके हैं।

फर्स्ट क्‍लास क्रिकेट के समय में धोनी के कप्‍तान आईपीएल में अब उन्‍हें सिखाएंगे फील्डिंग
फर्स्ट क्‍लास क्रिकेट के समय में धोनी के कप्‍तान आईपीएल में अब उन्‍हें सिखाएंगे फील्डिंग

तेंदुलकर ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘ उन्हें अपने किये पर पछतावा है और उन्हें अपने कृत्य के नतीजों के साथ रहना होगा। उनके परिवार के बारे में सोचें क्योंकि खिलाड़ियों के साथ उनके परिवार को भी यह झेलना होगा। अब समय आ गया है कि हम पीछे हटें और उन्हें थोड़ा समय दें।’’ बैन के बाद वापस अपने देश लौटने पर मीडिया से बातचीत के दौरान स्‍टीवन स्मिथ प्रेस कांफ्रेंस में ही फूट-फूट कर रोए। वो अपनी भावनाओं पर काबू नहीं रख सके। उन्‍होंने कहा कि हो सके तो मेरी इस गलती को माफ कर देना।

क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट के दौरान गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण की जांच के बाद स्मिथ और वार्नर को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से एक साल के लिए बैन कर दिया है, जबकि कैमरून बैनक्रॉफ्ट को नौ महीने के लिए बैन किया गया है। एक साल बाद टीम में वापसी करने के बाद भी स्मिथ पर अगले एक साल के लिए टीम की कप्‍तानी करने पर बैन रहेगा। वहीं, इस बॉल टेंपरिंग प्रकरण के सूत्रधार डेविड वार्नर पर आजीवन टीम की कप्‍तानी करने का बैन लगाया गया है।

(पीटीआई के इनपुट के साथ)