Sachin Tendulkar invited by SLC for Nidahas Trophy 2018
Sachin Tendulkar © PTI

श्रीलंका अपनी आजादी की 70वीं वर्षगांठ बना रहा है। इससे पहले 20 साल पहले देश की 50वीं वर्षगांठ के अवसर पर श्रीलंका ने निदास ट्रॉफी का आयोजन किया था। उस वक्‍त टी-20 की जगह 50 आवरों के मैच का आयोजन किया गया था, जिसमें बांग्‍लादेश की जगह तीसरे देश के रूप में न्‍यूजीलैंड ने हिस्‍सा लिया था। साल 1998 में भारत और श्रीलंका के बीच उस वक्‍त खेले गए फाइनल मैच में सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली ने पहले विकेट के लिए 252 रनों की रिकॉर्ड पारी की थी। उस वक्‍त तक का ये पहले विकेट के लिए सबसे बड़ा पाटनरशिप का रिकॉर्ड था। मौजूदा समय में ये सातवां सबसे बड़ा रिकॉर्ड है।

बौद्ध और मुस्लिम समुदाय के बीच सांप्रदायिक हिंसा के बाद श्रीलंका में लगी इमरजेंसी, यहीं खेलना है भारत को मैच
बौद्ध और मुस्लिम समुदाय के बीच सांप्रदायिक हिंसा के बाद श्रीलंका में लगी इमरजेंसी, यहीं खेलना है भारत को मैच

श्रीलंका क्रिकेट ने इस सीरीज को और यादगार बनाने के लिए मैच देखने के लिए सचिन तेंदुलकर को निमंत्रण भेजा है। हालांकि सचिन तेंदुलकर की तरफ से मैच देखने के लिए आने पर कोई जवाब नहीं दिया है। श्रीलंका क्रिकेट की तरफ से इसकी पुष्टि करते हुए कहा गया कि सचिन काफी व्‍यस्‍त होंगे। उनकी तरफ से आने को लेकर अभी तक हां नहीं किया गया है। हम उम्‍मीद कर रहे हैं कि वे सीरीज के कुछ मैच देखने जरूर आएंगे। बताया जा रहा है कि सचिन तेंदुलकर ने श्रीलंका क्रिकेट को आजादी की 70वीं वर्षगांठ के अवसर पर विशेष ग्रीटिंग और संदेश भेजा है।

भारत को आज श्रीलंका के साथ निदास ट्राफी का पहला मैच खेलना है। इस सीरीज का आखिरी मैच 18 मार्च को खेला जाएगा। भारतीय टीम के छह बड़े खिलाड़ी इस सीरीज में नहीं खेल रहे हैं। रोहित शर्मा को कप्‍तानी की कमान सौंपी गई है। भारतीय टीम इस ट्राई सीरीज में मोस्‍ट फेवरेट मानी जा रही है। हालांकि रोहित शर्मा का मानना है कि टी-20 क्रिकेट में कोई मोस्‍ट फेवरेट नहीं होता। मैच का रुख कभी भी पलट सकता है। कमजोर टीम भी किसी भ्‍ाी दिन अच्‍छा प्रदर्शन कर बड़ी से बड़ी टीम पर भारी पड़ सकती है।