Sachin Tendulkar says India should become sports playing nation
sachin tendulkar © AFP

दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने कहा है कि भारत खेलों को चाहने वाला देश है लेकिन अब उसे खेल खेलने वाला देश बनना चाहिए। तेंदुलकर ने नवी मुंबई में यहां एक कार्यक्रम के दौरान कहा, ‘मैं हमेशा कहता रहा हूं कि भारत को खेल खेलने वाला देश बनना चाहिए। हमारे देश को खेलों से लगाव है लेकिन हमें अब बदलने की जरूरत है और हमें खेलना शुरू करना चाहिए। स्वस्थ प्रतिस्पर्धा हमेशा अच्छी होती है।’

अब खेलने के अंदाज में नहीं करेंगे बदलाव : क्रिस लिन
अब खेलने के अंदाज में नहीं करेंगे बदलाव : क्रिस लिन

उन्होंने कहा, ‘शारीरिक फिटनेस और मानसिक फिटनेस से एक स्वस्थ इंसान बनता है। मुझे याद है जब में छोटा था तो मेरी दादी कहा करती थी कि स्वास्थ्य ही धन है।’बाद में इस दिग्गज बल्लेबाज ने यहां एक मॉल में बड़ी संख्या में मौजूद दर्शकों से नियमित तौर पर खेल खेलने की अपील की।

दर्शक ‘सचिन – सचिन’चिल्ला रहे थे। इस पर तेंदुलकर ने कहा, ‘ऐसा महसूस हो रहा है कि जैसे मैं फिर से स्टेडियम में पहुंच गया हूं। सक्रिय जीवन जीना वास्तव में महत्वपूर्ण है। मैं आपसे यही कहना चाहता हूं कि किसी भी खेल को अपनाओ और उसे नियमित खेलो। इससे आप फिट और स्वस्थ रहोगे।’

गौरतलब है कि सचिन ने 200 टेस्‍ट और 463 अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेले हैं। टेस्‍ट में उनके नाम 15,921 रन दर्ज हैं जबकि वनडे में 18,426 रन हैं। सचिन वनडे में 49 जबकि टेस्‍ट में 51 शतक लगा चुके हैं।