Shane Warne is not happy with one year ban on Steven Smith, David Warner
शेन वॉर्न © Getty Images

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर शेन वॉर्न ने गेंद से छेड़छाड़ मामले को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है। अपने आधिकारिक फेसबुक अकाउंट से किए एक लंबे चौड़ें पोस्ट में वॉर्न ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के स्टीवन स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर लगाए एक साल के बैन को गलत बताया है। वॉर्न ने लिखा, “उन्होंने जो किया वो गलत है और उन्हें कड़ी कजा मिलनी चाहिए लेकिन मुझे नहीं लगता कि एक साल का बैन इसका जवाब है। मैं उन्हें चौथे टेस्ट से बाहर करता, बड़ा जुर्माना लगाता और उन्हें कप्तान, उप कप्तान के पद से हटा देता। लेकिन इसके बाद उन्हें खेलने की अनुमति देता।”

बैन लगने के बाद भी क्रिकेट के मैदान पर दिखेंगे स्मिथ, वॉर्नर और बैनक्रॉफ्ट
बैन लगने के बाद भी क्रिकेट के मैदान पर दिखेंगे स्मिथ, वॉर्नर और बैनक्रॉफ्ट

वॉर्न ने माना कि इस घटना ने हर ऑस्ट्रेलियन को दुख पहुंचाया है और हर कोई खिलाड़ियों से नाराज है। लेकिन वॉर्न ने माना कि भावनाओं में आकर फैसला लेना सही नहीं है। उन्होंने लिखा, “पहले इससे भावनाओं को अलग कर दें। हम सब गुस्सा है और शर्मसार भी लेकिन आपको अपनी सोच को एक स्तर पर रखना होगा। आप किसी को बर्बाद नहीं कर सकते, जब तक कि वो इसके लायक ना हो।”

वॉर्न ने लिखा कि ऐसी घटनाएं पहले भी हो चुकी है और लेकिन इस तरह की सजा नहीं दी गई थी। वॉर्न ने लिखा, “हम इस घटना से इतने ज्यादा दुखी और नाराज है कि हमे समझ ही नहीं आ रहा कि कैसी प्रतिक्रिया दें लेकिन अफवाहों और गलत खबरों के दौर ने इस अपराध को इतना बड़ा बना दिया, जितना बड़ा ये था भी नहीं। और हम इस मुकाम पर पहुंच गए, जहां सजा अपराध के साथ फिट ने बैठ रही है। ये खबर पूरी दुनिया में फैल गई और पिछले पांच सालों में टीम ने जो कुछ भी किया उसके बारे में फैली अफवाहों ने उस हर एक शख्स, जो ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम से नफरत करता था, को इस मामले में कूदने का मौका दिया।”