Shane Watson says Australia ball-tampering penalties are extreme
David Warner (L) and Steven Smith © Getty Images

इंडियन प्रीमियर लीग के फाइनल में शतक जमाकर चेन्नई सुपर किंग्स को विजेता बनाने वाले ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ऑल राउंडर ने बॉल टैंपरिंग विवाद पर बात की है। वॉटसन को लगता है कि इसके दोषी स्टीवन स्मिथ, डेविड वार्नर और कैमरून बैनक्राफ्टको कड़ी सजा मिली है।

राशिद बोले, राष्‍ट्रपति के बाद शायद अफगानिस्‍तान में मैं सबसे लोकप्रिय
राशिद बोले, राष्‍ट्रपति के बाद शायद अफगानिस्‍तान में मैं सबसे लोकप्रिय

शेन वॉटसन का कहना था कि जिन तीन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को बॉल टैंपरिंग मामले में सजा हुई है वह ज्यादा है। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीवन स्मिथ उप-कप्तान डेविड वार्नर और बल्लेबाज कैमरून बेनक्राफ्ट को इस मामले में दोषी पाया गया था।

स्मिथ और वार्नर को मिली कड़ी सजा

स्मिथ और वार्नर को एक-एक साल जबकि बैनक्राफ्ट को 9 महीने के लिए प्रतिबंध लगाया गया है। इतना ही नहीं स्मिथ वापसी के बाद भी अगले एक साल तक टीम की कप्तानी नहीं कर पाएंगे जबकि वार्नर को भविष्य में कभी भी कप्तानी नहीं दी जाएगी।

वॉटसन ने कहा, जो इन खिलाड़ियों ने किया उसके बदले में मिली सजा वह काफी सख्त है। उन्होंने जो किया उसके बदले उन्होंने भारी कीमत चुकाई है। अब जब भी वो वापसी करेंगे तो अपना सबकुछ झोंक देंगे उस गलती की भरपाई करने की खातिर ।

कोच जस्टिन लैंगर बिल्कुल सही पसंद

वॉटसन ने आगे कहा कि इसमें कोई दो राय नहीं की तीनों ही खिलाड़ी ने इस मामले में जो भी फैसला लिया वह निंदनीय है। आगे नए कोच जस्टिन लैंगर के लिए वॉटसन का कहना था कि लैंगर इस समय के लिए बिल्कुल उपयुक्त व्यक्ति हैं। वह टीम को इस मुश्किल से निकाल कर उसे दोबारा खड़ा कर सकते हैं।

गौरतलब है इस सीजन में इंडियन प्रीमियर लीग में वॉटसन ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए दो शतक बनाए। राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ लीग स्टेज में जबकि फाइनल में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ रन का पीछा करते हुए भी शतक जमाया।