शारजील खान © Getty Images
शारजील खान © Getty Images

पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) स्पॉट फिक्सिंग जिसने हाल फिलहाल में क्रिकेट जगत को हिलाकर रख दिया था। उसमें दोषी पाए गए शरजील खान को पाकिस्तान के एंटी करप्शन ट्रिब्यूनल ने 5 साल बैन की सजा सुनाई है। ट्रिब्यूनल के सदस्य असघाट हैदर ने कहा, “शरजील को पांच साल के लिए बैन कर दिया गया है। जिन्हें केस की कार्यवाई के दौरान ढ़ाई साल तक निलंबित रखा गया।” कुछ महीने पहले जारी किए गए अंतरिम आदेश के मुताबिक शरजील अगले ढाई सालों तक घरेलू और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेल पाएंगे। इसके पहले शरजील ने इस मामले में अपनी भागेदारी से इंकार किया था। जब पत्रकारों ने उनसे सवाल किया था तो शारजील ने कहा था, “मैंने कुछ गलत नहीं किया। हर चीज जल्दी ही साफ हो जाएगी।”

यह टूर्नामेंट फरवरी- मार्च में आयोजित किया गया था। इस दौरान उस खिलाड़ी पर कोई भी जुर्माना नहीं लगाया गया था जिसने जानबूझकर गेंदों पर रन नहीं बनाए थे। शरजील के अलावा, खालिद लतीफ को भी निलंबित किया गया था और और पीएसएल टूर्नामेंट से वापस भेज दिया गया था। पीसीबी ने बयान जारी करते हुए कहा था, “शरजील और लतीफ को निलंबित कर दिया गया है। पीसीबी के द्वारा और आईसीसी के सहयोग से कठोर और व्यापक जांच जारी रहेगी ताकि स्पोर्ट्स की गरिमा को बरकरार रखा जा सके।” मोहम्मद नवाज पर भी एक महीने का बैन लगाया गया है और उनपर दो हजार यूएस डॉलर का जुर्माना लगाया गया है।

[ये भी पढ़ें: पाकिस्तान के सोहेल तनवीर ने 3 रन देकर ले डाले 5 विकेट, बना डाला बड़ा रिकॉर्ड]

नवाज को एक समय पाकिस्तान का भविष्य माना जा रहा था। उनकी उम्र 23 साल है वह वेस्टइंडीज के खिलाफ मार्च में टी20 टीम का हिस्सा रहे थे लेकिन वह बिना कोई मैच खेले घर लौटे थे। लतीफ ने स्पॉट फिक्सिंग की कार्यवाई का बहिष्कार कर दिया गया। खासकर तब जब ट्रिब्यूनल ने उन्हें रिकॉर्डेड इंटरव्यू की कॉपी देने से इंकार कर दिया।