Shikhar Dhawan have to score big in order to stay in Indian team, says Sunil Gavaskar
शिखर धवन © AFP

भारत के दक्षिण अफ्रीका दौरे के दौरान टीम इंडिया के दोनों सलामी बल्लेबाजों में से शिखर धवन को लगातार प्लेइंग इलेवन से अंदर-बाहर होते रहे। टेस्ट सीरीज के एक मैच के दौरान खराब प्रदर्शन के बाद धवन को टीम से बाहर कर दिया गया। वनडे सीरीज में उनकी वापसी हुई। इस दौरान धवन ने कई बार अच्छी लय दिखाई और मजबूत शुरुआत भी की लेकिन वो इसे बड़े स्कोर में तब्दील नहीं कर सके। पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर का कहना है कि अगर धवन को भारतीय टीम में अपनी जगह पक्की करनी है तो उन्हें बड़ी पारियां खेलनी होगी।

गावस्कर ने टाइम्स ऑफ इंडिया के लिए लिखे अपने एक कॉलम में ये बातें कही। उन्होंने लिखा, “धवन ही क्यों? रोहित शर्मा क्यों नहीं? आखिरकार रोहित ने दक्षिण अफ्रीका में धवन से ज्यादा मैच खेले। एक बार के लिए भी ये नहीं सोचा गया कि धवन की जगह रोहित को टीम से बाहर किया जाय लेकिन ये केवल यही बताने के लिए है कि जब भी किसी खिलाड़ी पर गाज गिरनी होती है तो धवन का नाम सबसे ऊपर होता है। इसलिए बाएं हाथ के इस बल्लेबाज को समझना होगा कि 70 या 80 रनों की शानदार पारियां टीम में उसकी जगह पक्की नहीं करेंगी। केवल शतक ही करेंगे और जैसे कि कोहली सीमित ओवर के फॉर्मेट में कभी कभार ही कोई खराब शॉट खेलता है और शतक बनाता है।”

श्रीलंका के खिलाफ टी20 ट्राई सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान, विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी को आराम
श्रीलंका के खिलाफ टी20 ट्राई सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान, विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी को आराम

गावस्कर ने माना की धवन की आक्रामक बल्लेबाजी सीमित ओवर के फॉर्मेट में टीम को मजबूत शुरुआत दिलाती है लेकिन पूरे ओवर खेलना भी किसी बल्लेबाज के लिए उतना ही जरूरी है। उन्होंने लिखा, “धवन अपनी आक्रामक बल्लेबाजी से शुरू को ओवरों में खतरा उठाकर टीम को अच्छी शुरुआत दिलाता है। वो निडर होकर गेंद को हवा में खेलता है। लेकिन धवन को ये भी सुनिश्चित करना होगा कि वो इस तरह के रिस्की शॉट खेलना कम करे और शतक बनाए। उसकी स्कोरिंग रेट वैसे ही गजब की है इसलिए वो कम नहीं होगी लेकिन शतक बनाने से और भी बढ़ जाएगी। साथ ही अक्सर उसे टीम से बाहर करने की आदत भी कम हो जाएगी।”

बता दें कि रोहित की कप्तानी में श्रीलंका में ट्राई सीरीज खेलने पहुंची टीम इंडिया में धवन को उप-कप्तान बनाया गया है। रोहित और धवन के अलावा 15 सदस्यीय इस टीम में सुरेश रैना और दिनेश कार्तिक अनुभवी खिलाड़ी हैं। बाकी पूरी टीम युवा खिलाड़ियों से भरी हुई है।