तिलंगा सुमतिपाला © Getty Images
तिलंगा सुमतिपाला © Getty Images

श्रीलंका क्रिकेट के अध्यक्ष तिलंगा सुमतिपाला इन दिनों सभी के निशाने पर हैं। इसकी वजह है श्रीलंकाई टीम का खराब प्रदर्शन। श्रीलंका की टीम ने टीम इंडिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज 0-3 से गंवाई और उसके बाद वनडे सीरीज में भी उसे क्लीन स्वीप झेलना पड़ा। अब सुमतिपाला एक और मुसीबत में घिरते नजर आ रहे हैं। दरअसल श्रीलंका क्रिकेट के अध्यक्ष सुमतिपाला के सट्टा कंपनी से संबंध है और इसे खुद उन्होंने कोर्ट में स्वीकार किया है।

दरअसल श्रीलंका के पूर्व कप्तान अर्जुन राणातुंगा पर सुमतिपाला ने मानहानि का केस दायर किया हुआ है। इसी केस की सुनवाई के दौरान अदालत में उनसे सट्टा कंपनी से संबंधों पर सवाल पूछा गया और सुमतिपाला ने सट्टा कंपनी से अपने रिश्तों को स्वीकार किया। सुमतिपाला ने माना कि उनका और उनके परिवार की कंपनी का नाम स्पोर्टिंग स्टार है जो कि दुनिया की सबसे बड़ी सट्टा कंपनियों में से एक है। सुमतिपाला की इसके अलावा मीडिया कंपनी और खेल का सामान बेचने वाली कंपनी भी है।  [ये भी पढ़ें: विराट कोहली को गेंदबाजी नहीं करना चाहता ये पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज]

सुमतिपाला का सट्टा कंपनी से संबंधों की बात को मानना उनके लिए गले की फांस बन सकता है, इससे उनके अध्यक्ष पद की कुर्सी जा सकती है। श्रीलंका को वर्ल्ड कप जिताने वाले कप्तान राणातुंगा ने श्रीलंका के खराब प्रदर्शन के लिए सुमतिपाला को ही जिम्मेदार ठहराया है। राणातुंगा ने सुमतिपाला के खिलाफ राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना और पीएम रानिल विक्रमासिंघे को भी खत लिखा था और क्रिकेट प्रशासन में दखल की मांग की थी। अब सुमतिपाला के खिलाफ सट्टेबाजी कंपनी से संबंध का खुलासा हो गया है, देखना ये है कि सुमतिपाला की कुर्सी अब जाती है या फिर वो अपने पद पर बरकरार रहते हैं।