Somerset Cricket League: Bowler sends the bowl to the boundary for denying batsman for century

अगर कोई खिलाड़ी शतक के करीब हो। टीम को जीत के लिए दो रन की दरकार हो। अपना शतक पूरा करने के लिए भी इस खिलाड़ी को दो ही रन चाहिए हों। ऐसे में गेंदबाज जानबूझ कर बाउंड्री की तरफ गेंद फेंक दे ताकि बल्‍लेबाज शतक ना बना सके। सोचिए, ये खेल भावना का कितना निचला स्‍तर होगा। जी हां, इंग्‍लैंड की समरसेट क्रिकेट लीग में कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला।

विराट कोहली ICC रैंकिंग में बने नंबर वन टेस्ट बल्लेबाज
विराट कोहली ICC रैंकिंग में बने नंबर वन टेस्ट बल्लेबाज

गेंदबाज की हरकत से पहले शतक से चूका बल्‍लेबाज

बीबीसी की खबर के मुताबिक ये मुकाबला पुनेल क्रिकेट क्लब और माइनहेड क्रिकेट क्लब के बीच खेला गया। माइनहेल क्रिकेट क्‍लब के बल्‍लेबाज जे डैरल अपने फस्‍ट क्‍लास करियर का पहला शतक लगाने जा रहे थे। टीम की जीत लगभग तय ही थी। वो 98 रन पर खेल रहे थे। इसी बीच पुनेल क्रिकेट क्‍लब के गेंदबाज ने गेंद चौके की तरफ फेंक दी। इस गेंद पर नौ बॉल का भी एक रन मिला। जे डैरल 98 रन पर नॉट आउट ही पवेलियन लौटे।

कप्‍तान को मांगनी पड़ी माफी 

मैच के बाद माइनहेड क्रिकेट क्‍लब की तरफ से ट्वीट कर इसकी निंदा की गई। उन्‍होंने कहा, “क्रिकेट में इस तरह की चीजें होना अच्‍छा नहीं है। हालांकि हमारे खिलाड़ियों ने अच्‍छा प्रदर्शन कर टीम को जीत दिलाई।”

क्‍लब की तरफ से कहा गया, “हम इस बात का सम्‍मान करते हैं कि पुनेल क्रिकेट क्‍लब के कप्‍तान जे डैरल से मिलने आए और उनसे अपने गेंदबाज की शर्मनाक घटना के लिए माफी मांगी। इस तरह की चीजों से बचा जाना चाहिए था।”

जे डैरल ने मैच के बाद ट्विटर पर लिखा, “ये खेल के लिए काफी बुरा दिन है। जिस तरह से खेल खत्‍म हुआ वो काफी शर्मनाक था।” डैरल ने गेंदबाजी में भी 22 रन देकर तीन विकेट निकाले।