Sourav Ganguly misses pressure and thrill of cricket
सौरव गांगुली © Getty Images

भारतीय टीम के सबसे सफल कप्तानों में से एक सौरव गांगुली को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिए एक दशक का समय हो चुका है। फैंस जहां आज भी ऑफ साइड के इस महाराज को याद करते हैं, वहीं गांगुली को क्रिकेट के खेल से ज्यादा कुछ और याद आता है। पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने कहा कि वो मैच से पहले का दबाव और रोमांच काफी मिस करते हैं।

आईपीएल 2018: मुंबई इंडियंस को रहेगा पहली जीत का इंतजार, जब किंग कोहली से टकराएंगे हिटमैन
आईपीएल 2018: मुंबई इंडियंस को रहेगा पहली जीत का इंतजार, जब किंग कोहली से टकराएंगे हिटमैन

इकॉमानिक टाइम्स को दिए इंटरव्यू में गांगुली ने कहा, “जिंदगी एकदम सही चल रही है, मैं जो भी कर रहा हूं उसका मजा ले रहा हूं और फाइनेंस वगैरह कोई समस्या नहीं है। जो एक चीज में सबसे ज्यादा याद करता हूं, वो है जब मैं वनडे या टेस्ट मैच से पहले सुबह 7:30 उठकर तैयार होता था तो उस समय जो दबाव होता था, वो याद आता है।”

गांगुली ने पुराने दिनों को याद करते हुए कहा, “मुझे पता था कि पूरा दिन लोग मुझे लेकर राय बनाएंगे। मैं या तो सफल होंगा या फिर असफल, वो रोमांच मैं मिस करता हूं।” गांगुली आजकल बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष का पद संभाल रहे हैं। कैब फिलहाल कोलकाता नाइट राइडर्स के घरेलू मैचों के आयोजन में व्यस्त है।