South Africa’s Legendary fielder Colin Bland dies due to cancer
कॉलिन ब्लैंड (फाइल फोटो) © Getty Images

बात जब अच्‍छी फील्डिंग की हो तो जिसी एक खिलाड़ी का नाम जहन में आता है वो सिर्फ और सिर्फ जॉन्टी रोड्स ही है। ऐसा होना लाजमी भी है, क्‍योंकि बॉल को रोकने और डाइव मारकर कैच पकड़ने में अगर किसी खिलाड़ी ने कीर्तिमान स्‍थापित किए हैं तो वो जॉन्‍टी रोड्स ही हैं। जॉन्‍टी जब क्रिकेट खेला करते थे तो ऐसा माना जाता था कि जिस जगह वो खड़े हैं उसके आसपास बल्‍लेबाज शॉर्ट मारने की सोचता भी नहीं था। वो दो खिलाड़ियों की जगह को अकेले खड़े होकर ही बाउंड्री जाने से सुरक्षित रखने की खासियत रखते थे।

जब IPL मैच में एक दूसरे से भिड़ती दिखीं प्रीति जिंटा और अनुष्का शर्मा
जब IPL मैच में एक दूसरे से भिड़ती दिखीं प्रीति जिंटा और अनुष्का शर्मा

अच्‍छी फील्डिंग के लिए दक्षिण अफ्रीका को जॉन्टी रोड्स ने नई पहचान दिलाई। रोड्स के क्रिकेट में कदम रखने से पहले एक खिलाड़ी ऐसा भी था जिसने क्रिकेट में फील्डिंग को नए मुकाम तक पहुंचाया। दक्षिण अफ्रीका के ही कॉलिन ब्लैंड को सबसे पहले फिल्डिंग को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया। क्रिकेट के इस दिग्‍गज को लेकर इंग्‍लैंड से एक बुरी खबर आई है। 80 साल की उम्र में दक्षिण अफ्रीका के इस खिलाड़ी का निधन हो गया।

कॉलिन ब्लैंड लंबे समय से कैंसर की बीमारी से ग्रस्‍त थे। शनिवार रात को उनकी लंदन में मौत हो गई। ब्‍लैंड ने साल 1961 से लेकर 1966 तक दक्षिण अफ्रीका के लिए क्रिकेट खेला। अपने पांच साल लंबे करियर के दौरान कुल 21 टेस्‍ट मैच खेले। उनके क्रिकेट छोड़ने के लंबे समय बाद जब जॉन्टी रोड्स दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट से जुड़े तो ये चर्चाएं होने लगी कि ये खिलाड़ी एक दम कॉलिन ब्‍लैंड की तरह मैदान पर फील्डिंग करता है।