श्रीलंका टीम © Getty Images
श्रीलंका टीम © Getty Images

क्रिकेट में कहावत है, पकड़ो कैच और जीतो मैच, लेकिन साल 2017 में श्रीलंकाई टीम ने इसका ठीक उलटा किया है। श्रीलंका साल 2017 में सबसे ज्यादा कैच टपकाने वाली टीम है। 2017 में तीनों फॉर्मेट को मिलाकर ये टीम कुल 65 कैच छोड़ चुकी है। इस दौरान श्रीलंका के 26 खिलाड़ियों ने एक कैच जरूर छोड़ा है। ये भी पढ़ें: आईसीसी रैंकिंग में विराट कोहली का ‘रिकॉर्डतोड़’ प्रदर्शन, सचिन तेंदुलकर के बड़े रिकॉर्ड की बराबरी की

चंडीमल कैच छोड़ने में सबसे आगे !
साल 2017 में श्रीलंका की तरफ से सबसे ज्यादा कैच छोड़ने के मामले में सबसे आगे दिनेश चंडीमल (5) हैं। चंडीमल के बाद उपुल थरंगा, दिलशान मुनावीरा, निरोशन डिकवेला, असेला गुणारत्ने, लसिथ मलिंगा और दनुष्का गुणाथिलाका ने 4-4 कैच छोड़े हैं। श्रीलंका की खराब फील्डिंग का असर उनके प्रदर्शन पर भी पड़ा है और टीम को वनडे सीरीज में जिम्बाब्वे से भी हार झेलनी पड़ी थी। जिम्बाब्वे ने श्रीलंका को 5 मैचों की वनडे सीरीज में 3-2 से शिकस्त दी थी। इसके बाद भारत ने भी श्रीलंका को पहले टेस्ट और फिर वनडे सीरीज में बुरी तरह हराया और श्रीलंका का सूपड़ा साफ कर दिया।

श्रीलंका की फील्डिंग क्यों खराब
अच्छी फील्डिंग के लिए अच्छी फिटनेस होनी जरूरी है और मौजूदा श्रीलंका टीम की फिटनेस ही उसकी सबसे बड़ी कमी है। हाल ही में श्रीलंका के खेल मंत्री दयासिरी जयासेकरा ने भी श्रीलंकाई खिलाड़ियों की फिटनेस पर सवाल उठाए थे और कहा था कि श्रीलंका के खिलाड़ियों को फौजियों जैसी फिटनेस ट्रेनिंग की जरूरत है। जयासेकरा ने ये बयान तब दिया था जब श्रीलंका की टीम को आईसीसी चैंपिंयस ट्रॉफी के लीग मैच में पाकिस्तान से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई थी। उस मैच में श्रीलंका ने कई कैच छोड़े थे जो बाद में टीम की हार का कारण बने थे।