Steven Smith, David Warner, Cameron Bancroft can still play club cricket
स्टीवन स्मिथ, डेविड वॉर्नर © Getty Images

गेंद से छेड़छाड़ मामले में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्टीवन स्मिथ, डेविड वॉर्नर पर 12 महीने और कैमरून बैनक्रॉफ्ट पर 9 महीने का बैन लगा दिया है। क्रिकेट समीक्षक सीए के इस फैसले से खुश हैं, हालांकि इन खिलाड़ियों के फैंस के लिए एक साल अपने पसंदीदा क्रिकेटर को एक साल तक मैदान पर ना देख पाना काफी दुखद है। लेकिन हम आपको बता दें कि बैन के दौरान ये तीनों खिलाड़ी राष्ट्रीय टीम की जर्सी में भले ही ना पहन सकें लेकिन क्रिकेट के मैदान पर जरूर नजर आएंगे। दरअसल सीए ने अपने आधिकारिक बयान नें इन खिलाड़ियों बैन के दौरान क्लब क्रिकेट खेलने की इजाजत दी है। साथ ही दौरान कम्युनिटी क्रिकेट में 100 घंटे काम करना होगा।

बॉल टेंपरिंग मामले में स्‍टीवन स्मिथ, डेविड वार्नर पर लगा एक साल का बैन
बॉल टेंपरिंग मामले में स्‍टीवन स्मिथ, डेविड वार्नर पर लगा एक साल का बैन

सीए के बयान में इन खिलाड़ियों के भविष्य में ऑस्ट्रेलिया टीम की कप्तानी करने को लेकर भी बड़ा फैसला लिया गया है।क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने कहा कि स्मिथ और बैनक्रॉफ्ट की सजा खत्म होने के बाद भी एक साल तक उन्हें कप्तानी नहीं दी जाएगी। जबकि वॉर्नर अब कभी भी ऑस्ट्रेलिया टीम की कप्तानी नहीं कर सकेंगे।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अध्यक्ष डेविड पीवर ने कहा, ‘‘भविष्य में इन्हें कप्तानी सौंपने के बारे में तभी विचार किया जायेगा जब फैंस, जनता और अधिकारी इन्हें माफ कर देंगे लेकिन डेविड वॉर्नर भविष्य में कभी कप्तान नहीं बनेंगे। ये पेशेवर खिलाड़ियों के लिये अहम सजा है और बोर्ड इसे हल्के में नहीं लेगा। उम्मीद है कि सजा पूरी होने के बाद ये खिलाड़ी उस खेल में अपना करियर फिर बना सकेंगे जिसे वे प्यार करते हैं।’’