Steven Smith: Quinton de Kock got personal, Evoked an emotional response from David Warner
स्टीवन स्मिथ © AFG

ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच डरबन में खेले गए पहले टेस्ट के दौरान डेविड वॉर्नर और क्विंटन डी कॉक आपस में भिड़ गए। टी ब्रेक के दौरान ड्रेसिंग रूम की तरफ जाते हुए दोनों खिलाड़ियों के बीच झड़प हुई, जो वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में साफ नजर आई। टेस्ट मैच जीतने के बाद ऑस्ट्रेलिया टीम के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने डी कॉक पर वॉर्नर को भड़काने का आरोप लगाया। स्मिथ ने कहा कि दक्षिण अफ्रीकी विकेटकीपर बल्लेबाज ने वॉर्नर पर निजी टिप्पणी की थी, जिसके बाद वॉर्नर भावुक हो गए और उनसे भिड़ गए।

स्मिथ ने कहा, “ब्रेक के दौरान दोनों पक्षों की ओर से जो भी कहा गया उस पर हमें पछतावा बै। क्विंटन ने निजी टिप्पणी की थी, जिस पर भड़ककर डेवी की तरफ से भावुक प्रतिक्रिया आई। मेरे ख्याल से मैदान पर निजी टिप्पणी करना एक तरह से सीमा पार करना है।” स्मिथ ने ये भी कहा कि उनके खिलाड़ी मैदान पर विपक्षी टीम के खिलाड़ियों से बातचीत जरूर कर रहे थे लेकिन किसी भी ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने निजी टिप्पणी नहीं की थी।

डेविड वार्नर और डीकॉक के बीच डरबन टेस्‍ट के दौरान हुई कहासुनी, वीडियो हुआ वायरल
डेविड वार्नर और डीकॉक के बीच डरबन टेस्‍ट के दौरान हुई कहासुनी, वीडियो हुआ वायरल

स्मिथ ने आगे कहा, “हम आक्रामक होकर अपना सर्वश्रेष्ठ खेल दिखाते हैं। जब हम एक साथ लड़ते हैं और एक टीम की तरह शिकार करते हैं। हम एक दूसरे के लिए काम करते हैं और साथी खिलाड़ियों की मदद करते हैं। ऑस्ट्रेलियाई होने का यही मतलब है। मैं ये नहीं कहूंगा कि आगे ऐसा कुछ नहीं होगा लेकिन जहां तक मेरा ख्याल है हम कोशिश करेंगे और खेल भावना के साथ खेलेंगे।

हालांकि दक्षिण अफ्रीकी टीम के मैनेजर मोहम्मद मूसाजी स्मिथ के बयान से बिल्कुल इत्तेफाक नहीं रखते हैं। उन्होंने वॉर्नर को ही दोषी ठहराया। मूसाजी ने कहा, “वो शब्द मैदान पर कहे गए थे। अगर आप कुछ कहते है तो सुनने की हिम्मत भी रखें और वो क्विंटन का अपना मत है। जांच शुरू होने दीजिए और मैच अधिकारियों को फैसला लेने दीजिए।