Steven Smith started crying while talking to media after 1-year ban over ball-tampering row
स्‍टीवन स्मिथ © Twitter

पूर्व कप्‍तान स्‍टीवन स्मिथ और पूर्व उपकप्‍तान डेविड वार्नर पर क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया ने बॉल टेंपरिंग विवाद में एक साल के लिए बैन लगा दिया है। जबकि कैमरुन बैनक्रॉफ्ट पर नौ महीने का बैन लगाया गया है। वापस देश लौटने के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान स्‍टीवन स्मिथ फूट-फूट कर रोने लगे। उन्‍होंने इसे अपने करियर की सबसे बड़ी भूल बताया। स्मिथ ने क्रिकेट फैन्‍स से माफी मांगते हुए कहा, ” ये मेरे जीवन की सबसे बड़ी भूल थी।”

स्मिथ मीडिया से बातचीत के दौरान कई बार रोए और रोते-रोते ही प्रेस कांफ्रेंस से चले गए। उन्‍होंने कहा, “टीम का कप्‍तान होने के नाते मैं इसकी पूरी जिम्‍मेदारी लेता हूं। मुझसे फैसला लेने में भूल हुई। मैं इसके लिए शर्मिंदा हूं।  जीवन में अच्‍छे लोग भी गलती करते हैं। मैं उम्‍मीद करता हूं कि इस गलती की भरपाई कर पाउंगा। मैं आपको ये आश्‍वस्‍त हूं कि इस तरह की गलती दोबारा नहीं होगी। मैं क्रिकेट को दिल से प्‍यार करता हूं। मेरे कारण सभी को तकलीफ पहुंची है। मैं दिल से इसके लिए माफी मांगता हूं। मैं युवा खिलाड़ियों को प्रेरित करना चाहता हूं।”

स्मिथ ने कहा,”अगर इस पूरे मामले से कुछ अच्छा निकल कर आता है, दूसरो को कुछ सीखने को मिलता है तो मुझे उम्मीद है कि मैं बदलाव की ताकत बन सकूं। मुझे पता है कि मैं अपनी पूरी जिंदगी इसे लेकर पछताता रहूंगा। मैं शर्मिंदा हूं, उम्मीद है कि समय के साथ मैं लोगो से माफी और सम्मान हासिल कर सकूं।”

डेविड वॉर्नर को लेकर सवाल किए जाने पर स्मिथ ने कहा, “मैं किसी और इसके लिए दोषी नहीं ठहराता, मैं टीम का कप्तान हूं और ये मेरी अगुवाई में हुआ है। शनिवार के दिन जो कुछ भी हुआ मैं उसकी पूरी जिम्मेदारी लेता हूं।” स्मिथ ने क्रिकेट को दुनिया का सबसे बेहतरीन खेल और अपनी जिंदगी बताया। उन्हें उम्मीद है कि वो फिर से क्रिकेट के मैदान पर वापसी कर सकेंगे।