Sunil Gavaskar asks if Team India had enough exposure to red ball ahead of 1st Test against England
Virat Kohli © Getty Images

भारतीय टीम विराट कोहली के नेतृत्व में करीबन एक महीने से इंग्लैंड में हैं। लेकिन गौर करने की बात ये है कि टीम इंडिया ने अब तक सफेद गेंद से सीमित ओवर का क्रिकेट ही खेला है, ऐसे में पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने सवाल उठाए हैं कि क्या टीम को टेस्ट सीरीज से पहले लाल गेंद से पर्याप्त अभ्यास का मौका मिला है?

इंग्लैंड दौरे पर टीम इंडिया के 'एक्स फैक्टर' हैं कुलदीप यादव
इंग्लैंड दौरे पर टीम इंडिया के 'एक्स फैक्टर' हैं कुलदीप यादव

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में गावस्कर ने कहा, “यहां इंग्लैंड में वो लगभग एक महीने से ज्यादा समय से खेल रहे हैं लेकिन वो सफेद गेंद का क्रिकेट था। इसलिए अगर वो हालात और मौसम के मुताबिक ढल भी गए हैं तो सवाल ये उठता है कि एक अभ्यास मैच में उन्हें लाल गेंद से खेल का कितना अनुभव मिला होगा? ब्रिटेन के ज्यादातर हिस्सों का मौसम पिछले महीने से भारत जैसा ज्यादा है लेकिन पिछले कुछ दिनों हल्की बारिश की वजह से ये बदला है। अगर मौसम ऐसा ही रहता है तो नई गेंद के साथ गेंदबाज खेल का मजा लेंगे क्योंकि गेंद ज्यादा हरकत करेगी और वो लंबे स्पेल करा सकेंगे।”

कल एजबेस्टन में होने वाले पहले टेस्ट के लिए भारतीय प्लेइंग इलेवन के बारे में बात करते हुए गावस्कर ने कहा, “भारतीय टीम का थिंक टैंक पहले मैच के लिए टीम कॉम्बिनेशन निश्चित करने में काफी परेशान हो रहा होगा क्योंकि ये ऐसा मैच है जो पूरी सीरीज की लय तय करेगा। क्या वो पांच गेंदबाज चुनेंगे या छह बल्लेबाजों के साथ जाएंगे और क्या पांच गेंदबाजों में दो स्पिनर्स को जगह मिलेगी?”

पूर्व कप्तान ने आगे कहा, “उनके दो गेंदबाजों अश्विन और हार्दिक पांड्या के नाम टेस्ट शतक हैं ये उनके लिए फायदे की बात है। इसकी वजह से वो पांच बल्लेबाजों के साथ भी खेलते हैं तो उनकी बल्लेबाजी में गहराई रहेगी। दिनेश कार्तिक भी टीम में हैं, जिनके नाम टेस्ट शतक है। अगर कार्तिक छह नंबर पर बल्लेबाजी करते हैं और अश्विन, पांड्या उसके बाद खेलते हैं तो वो कुलदीप यादव को भी बतौर दूसरा स्पिनर खिला सकते हैं। ये बात मैच की सुबह पिच की स्थिति पर निर्भर करेगी।”