Sunil Gavaskar: India didn’t strengthen their batting despite losing the first Test
Virat Kohli © Getty Images

इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में हार के बाद लॉर्ड्स में भी टीम इंडिया के 107 के स्कोर पर ऑलआउट होने से पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर काफी नाराज हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया के लिए लिखे कॉलम में गावस्कर ने भारतीय बल्लेबाजों को लताड़ लगाई। गावस्कर ने लिखा, “पहला टेस्ट हारने के बाद भी, जहां कोहली के अलावा कोई बल्लेबाज नहीं चला था, भारतीय टीम ने अपनी बल्लेबाजी मजबूत नहीं की और शिखर धवन को बलि का बकरा बना दिया।”

विराट कोहली का 'कप्तान' बनना अब भी बाकी: क्लाइव लॉयड
विराट कोहली का 'कप्तान' बनना अब भी बाकी: क्लाइव लॉयड

गावस्कर ने आगे लिखा, “उन्होंने कुलदीप यादव को भी टीम में शामिल किया, ये सोचकर कि वो इंग्लिश बल्लेबाजों को परेशान करेगा जैसा उसने सीमित फॉर्मेट में किया। भारतीय टीम को जीत दिलाने के लिए कुलदीप का दूसरी पारी में ऐसा करना अब भी बाकी है। लेकिन उसके लिए पहले बल्लेबाजों को कुछ काम करना होगा। लाल गेंद से उनके अभ्यास की कमी साफ दिख रही है और सीम कंडीशन में तीन पारियों से भी उन्हें कुछ मदद नहीं मिली है।”

गावस्कर ने लॉर्ड्स टेस्ट के दूसरे दिन पांच विकेट हॉल लेने वाले जेम्स एंडरसन और कल शतक जड़ने वाले क्रिस वोक्स की तारीफ की। इसके अलावा युवा ऑलराउंडर सैम कर्रन के गेंद को बल्लेबाज के पैड के विपरीत दिशा में ले जाने की क्षमता की भी तारीफ की। भारतीय बल्लेबाजों के बारे में गावस्कर ने लिखा, “भारतीय बल्लेबाज क्रीज पर जम गए थे और अपना पैर ही नहीं हिला पाए। मैं ये नहीं कह रहा कि किसी और टीम के लिए नई गेंद के साथ इंग्लैंड के शानदार अटैक का सामना करना आसान होता।”