Umesh Yadav agrees that two new balls rule has ended reverse swing in ODIs
Umesh Yadav in Champions Trophy 2017 © Getty Images

भारतीय दिग्गज सचिन तेंदुलकर के वनडे मैचों में दो नई गेंदों के इस्तेमाल को ‘तबाही का कारण’ कहने के बाद अब भारत के तेज गेंदबाज उमेश यादव ने भी इसकी निंदा करते हुए कहा कि इससे रिवर्स स्विंग की कला खत्म हो रही है। जिस वजह से तेज गेंदबाजों को नुकसान पहुंच रहा है।

आईसीसी ने 2011 में दो नई गेंद के इस्तेमाल के नियम को लागू किया था। इसके बाद से बड़े स्कोर वाले मैचों की संख्या में इजाफा हुआ है। हाल ही में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 50 ओवर में विश्व रिकार्ड 481 रन बनाए थे, जिसके बाद तेंदुलकर समेट कई खिलाड़ियों ने इस नियम की आलोचना की थी।

क्रिकेट के मैदान पर वापसी के लिए तैयार हैं कैमरून बैंक्रॉफ्ट
क्रिकेट के मैदान पर वापसी के लिए तैयार हैं कैमरून बैंक्रॉफ्ट

उमेश ने कहा, ‘‘दो नई गेंदों की वजह से तेज गेंदबाजों के लिए रनों पर अंकुश लगाना मुश्किल हो गया है। अगर एक ही गेंद होती है तो वो लगातार पुरानी होती रहती है और आप इससे रिवर्स स्विंग करा सकते हैं। दो नई गेंदों के साथ वनडे में रिवर्स स्विंग नहीं होगी, ये तेज गेंदबाजों के लिए मुश्किल है। खासकर तब जब वो सही लेंथ से गेंदबाजी नहीं कर पाएं या यॉर्कर सही नहीं फेंक पाएं तो।’’

इस तेज गेंदबाज ने इंग्लैंड में दो नई गेंदों के इस्तेमाल के साथ गेंदबाजों के सामने आ रही दिक्कतों पर भी बात की। उन्होंने कहा, ‘‘अगर डेथ ओवरों में गेंद मूव नहीं कर रही है तो इस दबाव से निपटना काफी मुश्किल होता है खासकर जब विकेट सपाट हो।’’

उमेश ने कहा, ‘‘आजकल हमने देखा है कि विकेट काफी सपाट होते हैं और इंग्लैंड में खिलाड़ी नियमित तौर पर इस तरह के विकेटों पर खेलते हैं। वो 480 रन बना रहे हैं तो निश्चित तौर पर गेंदबाजों के लिए काफी चुनौतीपूर्ण स्थिति है। हम इस चुनौत के लिए तैयार हैं क्योंकि हम अच्छा क्रिकेट खेल रहे हैं और हम इंग्लैंड में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे।’’