Umesh Yadav: It’s very difficult to get a chance in a well balanced team
Umesh Yadav © AFP

7 अगस्त 2012 को भारत के लिए टी20 अंतर्राष्ट्रीय में डेब्यू करने वाले उमेश यादव 6 साल बाद कल आयरलैंड के खिलाफ दूसरी बार टी20 जर्सी में नजर आए। इतने लंबे समय तक टी20 टीम से दूर रहने की वजह के बारे में बात करते हुए उमेश ने कहा कि भारतीय टीम भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह जैसे गेंदबाजों की वजह से इतनी ज्यादा संतुलित है कि दूसरे गेंदबाजों को आसानी से मौका नहीं मिलता है।

आयरलैंड के खिलाफ दूसरे टी20 में जीत दर्ज करने के बाद उमेश ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, “भुवी, बुमराह और यहां तक कि शमी की वजह से टीम इतनी संतुलित है, ऐसे में किसी और मौका मिलना मुश्किल है। लेकिन मैनेजमेंट कोशिश करता है कि हर तेज गेंदबाज को मौका मिले। मैं केवल अपनी बारी का इंतजार कर रहा था। मैं अपना 100 प्रतिशत दे रहा था और केवल अपने प्रदर्शन के बारे में सोच रहा था। अगर मैं इसी तरह प्रदर्शन करता रहा तो चयनसमिति का सिर दर्द बढ़ जाएगा।”

अपने प्रदर्शन से खुश हैं उमेश

गौरतलब है कि आयरलैंड के खिलाफ पहले टी20 में जसप्रीत बुमराह के चोटिल होने के बाद दूसरे मैच में उमेश को मौका दिया गया था। इस मौके का फायदा उठाकर अच्छा प्रदर्शन किया और 2 ओवर में 19 रन देकर 2 विकेट चटकाए। अपने प्रदर्शन के बारे में बात करते हुए उमेश ने कहा, “पांच साल बाद ये मेरी वापसी है और मैं अपने प्रदर्शन से खुश हूं। मैने अपने खेल का मजा लिया और जो मैने आईपीएल में किया, लगातार वही करने की कोशिश की। आगे भी मैं यही करूंगा।”

आईपीएल का अनुभव काम आया

रॉयल चैंलेजर्स बैंगलोर की ओर से खेलते हुए यादव का 11वां आईपीएल सीजन काफी अच्छा गया था। उन्होंने 14 मैचों में 20 विकेट लिए थे। इस बारे में उमेश ने कहा, “हमने आईपीएल से जो भी सीखा, उसे ही दोहराने की कोशिश कर रहे हैं। और इसी प्लान से गेंदबाजी कर रहे हैं, चाहे प्लान ए हो या बी। आप केवल एक प्लान के साथ मैदान पर नहीं जा सकते हैं। फ्लैट ट्रैक पर अगर एक प्लान काम नहीं कर रहा है तो आप प्लान बदलते हैं। हम आक्रामक सोच के साथ मैदान पर उतर रहे हैं और अच्छा क्रिकेट खेलना चाहते हैं, सभी का ध्यान इसी पर है। सभी को अपना काम पता है।”