Video: Did Cameron Bancroft attempt ball-tampering during Ashes 2017-18?
स्‍क्रीनग्रेब © ट्विटर

गेंद पर पीली टेप लगाकर छेड़खानी करने के मामले में ऑस्‍ट्रेलिया की टीम बुरी तरह से घिरी हुई है। कप्‍तान स्‍टीवन स्मिथ के प्रेस कांफ्रेंस में बॉल टेंपरिंग की बात कबूले जाने के बाद से ही क्रिकेट जगत में खलबली मच गई है। आईसीसी ने स्मिथ पर एक मैच का बैन और 100 फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगा दिया। इसी तरह गेंदबाज कैमरून बैनक्राॅफ्ट पर भी 75 प्रतिशत जुर्माना और डिमेरिट अंक की मामूली सजा दी गई। इस मामले में क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया की जांच चल रही है। इसी बीच बॉल टेंपरिंग से जुड़ा एक नया वीडियो भी अचानक सामने आया है। जिसमें बैनक्राॅफ्ट पर पहले भी इस तरह से बॉल से छेड़छाड़ करने के आरोप लगे हैं।

“द सन” वेबसाइट ने वीडियो जारी किया है, जिसमें दिखाया गया है कि ड्रेसिंग रूम में केमरून बैनक्राॅफ्ट अपनी जेब में चीनी डाल रहे हैं। बताया जा रहा है कि जनवरी में इंग्‍लैंड के खिलाफ खेली गई एशेज सीरीज के दौरान का ये वीडियो है। इस वीडियो को “द सन” के रिपोर्टर डेविड कावर्डले ने ट्वीट भी किया है। हालांकि इस वीडियो को लेकर विस्‍तार में जानकारी साझा नहीं की गई है। बता दें कि चीनी का इस्‍तेमाल मैच के दौरान गेंद की एक साइड को जल्‍दी पुराना करने के लिए किया जाता है। गेंदबाज मैच के दौरान जेब चीनी निकालकर गेंद पर रगड़ते रहते हैं, जिससे गेंद जल्‍दी पुरानी हो जाती है। गेंद की एक साइड को चमकाकर और दूसरी साइड को जल्‍दी पुराना करने से तेज गेंदबाजों को अच्‍छी स्विंग मिलती है।

इंग्‍लैंड के तेज गेंदबाज स्‍टुअर्ट ब्रॉड पहले ही ये संदेह जता चुके हैं कि एशेज के दौरान भी ऐसा हुआ होगा। उन्‍होंने कहा था, “मैने स्‍टीवन स्मिथ को ये कहते सुना कि उन्‍होंने पहली बार इस तरह से गेंद के साथ छेड़छाड़ की। तीसरे मैच के दौरान गेंद पहले ही काफी स्विंग हो रही थी, ऐसे में गेंदबाजों को गेंद को अतिरिक्‍त स्विंग कराने के लिए उससे छेड़छाड़ की क्‍या जरूरत। मुझे नहीं मालूम की ऑस्‍ट्रेलिया ने ऐसा पहले भी किया है या नहीं। मेरे पास इस बात के कोई सबूत नहीं है कि उन्‍होंने एशेज के दौरान भी ऐसा किया होगा।”