Video: Yuzvendra Chahal hits career’s first boundary and raises bat towards dressing room
Yuzvendra Chahal's Instagram

लॉड्स में खेले गए तीन मैचों की वनडे सीरीज के दूसरे मुकाबले को मेजबान इंग्‍लैंड ने 86 रनों से अपने नाम किया। पहले बल्‍लेबाजी करते हुए जो रूट 113(116) के शतक और डेविड विली के आतिशी अर्धशतक की मदद से इंग्‍लैंड ने 50 ओवरों में 322 रन ठोक दिए। लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी भारती टीम की पारी शुरुआत में ही लड़खड़ा गई। 60 रन के स्‍कोर पर ही भारत ने रोहित शर्मा, शिखर धवन, और केएल राहुल के विकेट गंवा दिए।

महेंद्र सिंह धोनी के समर्थन में उतरे कप्तान विराट कोहली
महेंद्र सिंह धोनी के समर्थन में उतरे कप्तान विराट कोहली

32वें ओवर मे 154 के स्‍कोर पर आधी टीम के आउट होने के बाद भारत की हार लगभत तय नजर आने लगी। भारत की टीम 50वें ओवर की आखिरी गेंद पर 236 के स्‍कोर पर ऑल आउट हो गइ। हार के बावजूद अंतिम क्षणों में स्पिन गेंदबाज युजवेंद्र चहल ने मैदान पर कुछ ऐसा किया जिसे देखकर पवेलियन में बैठे सभी खिलाड़ी हंसते हंसते लोटपोट हो गए।

करियर का पहला चौका लगाकर ड्रेसिंग रूम की तरफ लहराया बल्‍ला 

दरअसल, मैच का 48वां ओवर चल रहा था। सभी मुख्‍य बल्‍लेबाज आउट होकर जा चुके थे। मैदान पर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल मौजूद थे। भारत के लिए हार महज औपचारिकता भर थी। चहल ने 48वें ओवर की पांचवी गेंद पर आत्‍मविश्‍वास के साथ स्‍ट्रेट ड्राइव खेलते हुए चौका लगाया। ये उनके बल्‍लेबाजी करियर का पहला चौका था। चौका लगाने के बाद चहल ने अपना बल्‍ला उठाया और पवेलियन की ओर दिखाया। वो इस तरह बर्ताव कर रहे थे मानों उन्‍होंने शतक जड़ दिया हो।

बल्‍लेबाजी में उपरी क्रम पर खेलना चाहते हैं चहल

चहल ने जैसे ही बल्‍ला दिखाया, पवेलियन में बैठे खिलाड़ी अपनी हंसी नहीं रोक पाए। इस मैच में चहल ने दो चौकों की मदद से 12 गेंदों पर 12 रन बनाए। मैच की आखिरी गेंद पर उठाकर मारने के चक्‍कर में वो बेेन स्‍टोक्‍स को आसान कैच देकर आउट हुए। चहल 11वें नंबर पर बल्‍लेबाजी के लिए आते हैं, जहां उन्‍हें बल्‍ले से कुछ खास कर पाने का मौका नहीं मिलता। शनिवार की पारी के बाद वो टीम मैनेजमेंट को यह बताने का प्रयास कर रहे थे कि उन्‍हें बल्‍लेबाजी में उमेश यादव, सिद्धार्थ कौल और कुलदीप यादव से पहले बल्‍लेबाजी का मौका दिया जाए।