Vijay Shankar: Don’t  wants to come under pressure by comparing myself with Hardil Pandya
विजय शंकर (Image courtesy: AFP

ऑलराउंडर विजय शंकर ने कहा कि वो हार्दिक पांड्या के साथ तुलना करके खुद को दबाव में नहीं लाना चाहते और इसके बजाय वो अपने प्रदर्शन में सुधार करने पर ध्यान लगाएंगे। विजय ने बांग्लादेश के खिलाफ मैच में दो अहम विकेट झटककर मैन ऑफ द मैच का खिताब हासिल किया था। जिससे भारत ने निदास ट्रॉफी के दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में बांग्लादेश को छह विकेट से हराया।

श्रीलंका के खिलाफ की गलतियों को ना दोहराकर केवल बेसिक्स पर ध्यान दिया: रोहित शर्मा
श्रीलंका के खिलाफ की गलतियों को ना दोहराकर केवल बेसिक्स पर ध्यान दिया: रोहित शर्मा

उन्होंने कहा, ‘‘मेरे लिए, सबसे अहम चीज हर दिन बेहतर से बेहतर होना है। मैं हार्दिक से तुलना का दबाव नहीं चाहता क्योंकि वो भी ऑलराउंडर हैं। मुझे लगता है कि ज्यादातर क्रिकेटर तुलना नहीं चाहते, लेकिन हम सभी के लिए ये अहम है कि हम अपना सर्वश्रेष्ठ दिखाए और खुद को दबाव में लाने के बजाय अपना बेहतर प्रदर्शन करें।’’ विजय को अपने पहले अंतरराष्ट्रीय विकेट के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा क्योंकि उनके ओवर में पहले सुरेश रैना ने मिड ऑफ पर कैच छोड़ दिया था और फिर वाशिंगटन सुंदर भी इस गेंदबाज के पहले ओवर में कैच लेने से चूक गये थे।

इस बारे में पूछने पर विजय ने कहा, ‘‘इससे मुझे ज्यादा असर नहीं पड़ा क्योंकि कैच छूटना खेल का ही हिस्सा हैं। निश्चित रूप से उस समय अगर मुझे पहला विकेट मिलता तो मुझे अच्छा लगता है लेकिन हम जानते हैं कि सफेद बॉल से रोशनी में फील्डिंग करना आसान नहीं है। मैंने इसे इतनी अहमियत नहीं दी थी, मैं सिर्फ अगली गेंद डालने पर ध्यान लगा रहा था।’’