Virat Kohli calls on fans to support all team members
Indian captain Virat Kohli © AFP

कप्तान विराट कोहली ने भारतीय क्रिकेट के प्रशंसकों से आग्रह किया कि केवल एक टेस्ट मैच के बाद टीम की खराब बल्लेबाजी प्रदर्शन को लेकर सीधे निष्कर्ष पर नहीं पहुंचे। समस्या तकनीक के बजाय मानसिकता से जुड़ी है।

भारत ने इंग्लैंड से पहला टेस्ट मैच 31 रन से गंवाया। उस मैच में केवल कोहली ही दोनों पारियों में 50 रन की संख्या पार कर पाए।

पढ़ें:- लॉड्स टेस्ट के लिए टीम में होंगे बड़े बदलाव, दिग्गजों की छुट्टी !

कोहली ने दूसरे टेस्ट से पहले कहा, ‘‘हमें इतनी जल्दी नतीजे पर नहीं पहुंचना चाहिए। एक टीम के तौर पर हम संयम बनाये रखते हैं। हम इतनी जल्दी अनुमान नहीं लगाते। हम (असफलताओं के लिए) कोई तरीका नहीं देखते। जहां तक तेजी से विकेट गिरने की चिंता है तो यह तकनीक से नहीं जुड़ा है बल्कि यह मानसिक पहलू अधिक है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘पहली 20-30 गेंदें कैसे खेलनी हैं इसको लेकर रणनीति स्पष्ट होनी चाहिए और अमूमन इस रणनीति में आक्रामकता नहीं जुड़ी होती है। इस समय हमें आक्रामकता के बजाय संयम बरतने की जरूरत हाती है। बल्लेबाजी इकाई के रूप में हमने इस पर चर्चा की।’’

पढ़ें:- पोप को कोहली की सलाह खेल को इंज्‍वॉय करें, ‘नही बनाएं रन’

कोहली ने कहा कि टीम के हिसाब से वे इसका विश्लेषण नहीं करते कि हार कितनी बुरी थी क्योंकि उनका ध्यान अगले मैच में गलतियों पर कटौती करने पर होता है।

उन्होंने कहा, ‘‘बाहर से देखने पर यह बहुत बुरा लगता है विशेषकर तब जबकि यह टेस्ट क्रिकेट हो और हम इंग्लैंड में खेल रहे हों जहां यह हर हाल में मुश्किल होना है। लेकिन हमें केवल गलतियों में कमी करने की जरूरत है और इससे आगे हमें बहुत चिंता करने की जरूरत नहीं है।’’

लॉड्स टेस्ट के लिए टीम में होंगे बड़े बदलाव, दिग्गजों की छुट्टी !