Virat Kohli: Constant public scrutiny about personal life can be uncomfortable at times
विराट कोहली-अनुष्का शर्मा © IANS

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली अपनी निजी जिंदगी में लोगों की दखलअंदाजी से काफी नाराज हैं। दुनिया के सबसे मशहूर क्रिकेटरों में से एक कोहली के खेल के अलावा उनकी निजी जिंदगी को लेकर भी आए दिन खबरें बनती रहती है, जिससे ये खिलाड़ी असहज महसूस करता है। कोहली ने आईएएनएस को दिए बयान में कहा, “मेरी जिंदगी को लेकर सार्वजनिक तौर पर चर्चा होने से मैं काफी असहज महसूस करता हूं। हालांकि मैने इसे संभालना सीख लिया है। सेलेब्रिटी भी आम इंसान होते हैं, और मुझे लगता है कि लोगों को उन्हें उनका पर्सनल स्पेस देना चाहिए।”

राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ हार के बाद धोनी ने कहा, 'गेंदबाजों ने निराश किया'
राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ हार के बाद धोनी ने कहा, 'गेंदबाजों ने निराश किया'

कोहली ने पिछले साल बॉलीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा के साथ इटली में शादी की थी। दोनों ही अपने-अपने क्षेत्र के बड़े सेलिब्रिटी हैं और इस वजह से उनकी निजी जिंदगी भी आए दिन चर्चा का विषय बनी रहती है। कोहली ने इस बारे में कहा, “मैं अपनी निजी और सार्वजनिक जिंदगी के बीच संतुलन बनाए रखता हूं। जब मैं परिवार के साथ होता हूं तो क्रिकेट से बिल्कुल दूर हट जाता हूं। मैं दोस्तों के साथ मिलता जुलता हूं, फिल्म देखता हूं और ड्राइव पर जाता हूं। मुझे अपने कुत्ते के साथ समय बिताना अच्छा लगता है।”

कोहली ने ई-मेल इंटरव्यू में आईएएनएस के साथ अपने करियर से जुड़ी कई चीजों के बारे में चर्चा की। पद्मश्री से सम्मानित कोहली ने कहा, “साल 2011 में विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा होने का पल मैं हमेशा याद रखूंगा। ये एक शानदार अनुभव था।”

घरेलू क्रिकेट से शुरुआत कर भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान तक का सफर तय करने के बारे में कोहली ने कहा, “ये सफर बेहद शानदार रहा है। मैं एक सामान्य पृष्ठभूमि से निकलकर आया हुआ खिलाड़ी हूं। मेरे इस सफर की शुरुआत पश्चिमी दिल्ली से हुई थी। सफलता का मार्ग कभी भी सरल नहीं होता और मैंने इस सफर में चुनौतियों का सामना करना सीखा है। मैं जूनियर क्रिकेट से रणजी में आया और फिर भारतीय टीम में प्रवेश किया। शुरुआत से ही मेरा लक्ष्य देश के लिए खेलना रहा है और मुझे इसमें काफी गर्व महसूस हुआ। क्रिकेट पिच पर खड़े होना और अपने देशवासियों को आपके लिए तालियां बजाते देखना एक सुखद अहसास है। मैं हर पल का आनंद लेता हूं।”

साल 2013 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित हुए कोहली ने महेंद्र सिंह धौनी, सचिन तेंदुलकर और कपिल देव की तरह उनके जीवन पर फिल्म बनाए जाने की योजना के बारे में कहा, “मैंने इस बारे में सोचा नहीं है। अगर ऐसा कुछ होता भी है, तो मेरा मानना है कि यह बायोपिक की तुलना में मेरे जीवन की वास्तविकता अधिक होगी।”