Virat Kohli: I was cramping but had to stay till the end to get us 300
विराट कोहली ने केपटाउन वनडे में 160 रनों की पारी खेली © AFP

भारतीय टीम ने तीसरे वनडे मैच में दक्षिण अफ्रीका को 124 रन से हराकर छह मैचों की सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त बना ली है। मैन ऑफ द मैच रहे भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि 30 ओवर के बाद हालात काफी बदल गए और ऐसे में एक बल्लेबाज का अंत तक क्रीज पर डटे रहना महत्वपूर्ण था। कोहली ने 159 गेंद में 12 चौकों और दो छक्कों की मदद से नाबाद 160 रन की पारी खेली। कोहली ने शिखर धवन (76) के साथ दूसरे विकेट के लिए 140 रनों की शानदार साझेदारी बनाई, जिसकी मदद से भारत ने छह विकेट पर 303 का बड़ा स्कोर खड़ा किया। जवाब में दक्षिण अफ्रीका की टीम 40 ओवर में 179 रन पर ढेर हो गई।

केपटाउन वनडे: कुलदीप-चहल के सामने फिर ढेर हुई दक्षिण अफ्रीका, भारत 124 रनों से जीता
केपटाउन वनडे: कुलदीप-चहल के सामने फिर ढेर हुई दक्षिण अफ्रीका, भारत 124 रनों से जीता

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘‘दौरे की शुरुआत हमारे लिए काफी अच्छी नहीं रही लेकिन मुझे पता था कि प्रत्येक मैच में प्रतिस्पर्धा के लिए मुझे टिकना होगा। काफी अच्छा लग रहा है कि मैं जीत में योगदान दे रहा हूं। शुरू में अच्छे शॉट खेल सकते थे लेकिन 30 ओवर के बाद स्थिति काफी बदल गई और हमने तुरंत अपना लक्ष्य 330 से घटाकर 280-290 कर दिया। आप हमेशा चाहते हो कि कोई आखिर तक बल्लेबाजी करे और अगर आप कप्तान के रूप में ऐसा करते हो तो ये बेहतरीन है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘शिखर के साथ एक और अच्छी साझेदारी रही और आखिरी ओवरों में भुवी के साथ भी अच्छी भागीदारी। पारी के आखिर में मेरे पैरों में जकड़न थी लेकिन मुझे पता था कि 300 रन बनाने के लिए मुझे पूरे 50 ओवर तक खेलना होगा। यही वो समय है जब आपकी मानसिक और शारीरिक परीक्षा होती है।’’

स्पिन गेंदबाजों की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हम स्पिनरों को लक्ष्य का बचाव करने का दबाव देना चाहते थे और ये काफी अच्छा रहा। चौथे मैच में जज्बा और बेहतर होगा क्योंकि अब हम ये सीरीज गंवा नहीं सकते। मुझे यकीन है कि वे मजबूत वापसी करने की कोशिश करेंगे।’’

(पीटीआई के इनपुट के साथ)