Virat Kohli: My wife Anushka who keeps me motivated deserves a lot of credit
अनुष्का-विराट Photo courtesy: Bollywood Life

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मिली हार के बाद टीम इंडिया ने जबरदस्त वापसी करते हुए वनडे सीरीज में 5-1 से जीत दर्ज की है। कप्तान विराट कोहली ने सामने से टीम का नेतृत्व करते हुए हर मैच में अच्छा प्रदर्शन किया है।सेंचुरियन में खेले आखिरी वनडे में 8 विकेट से जीत दर्ज कर टीम इंडिया ने सीरीज पर मुहर लगा दी। वहीं मैच के बाद मीडिया से बात करते हुए कोहली ने इस जीत का श्रेय अपनी पत्नी और बॉलीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा को दिया। कोहली ने मीडिया से कहा, “जिन लोगों के मैदान के बाहर से अपना योगदान दिया है, उन्हें भी श्रेय मिलना चाहिए। मेरी पत्नी अनुष्का जिसने मुझे हमेशा प्रेरित किया है, उसे भी काफी श्रेय मिलना चाहिए। उसकी काफी आलोचना हुई है लेकिन वो अकेली ऐसी शख्स है जिसने पूरे दौरे पर मेरा साथ दिया है।”

सेंचुरियन में कोहली ने वनडे करियर का 35वां शतक लगाया। 129 रनों की इस शानदार पारी के दौरान कोहली ने कई खूबसूरत शॉट लगाए। अपनी फॉर्म के बारे में बात करते हुए कोहली ने कहा, “ये ऐसा दिन था जब मैं काफी अच्छा महसूस कर रहा था। इससे पहले मैच में मैं सही मानसिक स्थिति में नहीं था। मैने केवल गेंद को सही तरीके से टाइम करने का फैसला किया। रोशनी में बल्लेबाजी करने के लिए ये काफी अच्छी जगह है। बहुत सारी शॉर्ट गेंदे मिलना काफी अच्छा रहा। वो लगातार शॉर्ट गेंद कराते रहे। ये दौरा अब तक रोलर-कोस्टर जैसा रहा है।”

सेंचुरियन वनडे: विराट कोहली की शतकीय पारी के सामने ढेर हुई दक्षिण अफ्रीका; भारत ने 5-1 से सीरीज जीती
सेंचुरियन वनडे: विराट कोहली की शतकीय पारी के सामने ढेर हुई दक्षिण अफ्रीका; भारत ने 5-1 से सीरीज जीती

कोहली भगवान में विश्वास करते हैं और अपनी फॉर्म और फिटनेस के लिए उनका शुक्रिया करते हैं। कोहली जानते हैं कि हर खिलाड़ी के पास निश्चित समय होता है और वो इसके हर पल का फायदा उठाना चाहते हैं। कप्तान ने कहा, “आप आगे से टीम का नेतृत्व करना चाहते हैं। ये शानदार एहसास है। मेरा पास अभी 8-9 साल का करियर बचा है, मैं इसका पूरा फायदा उठाना चाहता हूं। ये भगवान की दुआ है कि मैं फिट हूं। मैं इसे इसी तरह देखता हूं। मैं शुक्रिया में अपना सिर नीचे रखता हूं ताकि मैं अपना 120 प्रतिशत दे सकूं।”

यूं तो सभी भारतीय खिलाड़ुियों ने इस दौरे पर शानदार प्रदर्शन किया है लेकिन जिन दो खिलाड़ियों की वजह से टीम इंडिया दक्षिण अफ्रीका पर दबाव बना पाई वो हैं रिस्ट स्पिनर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल। कोहली ने भी दोनों युवा गेंदबाजों की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, “सभी ने अपना चरित्र दिखाया। खासकर कि दोनों युवा रिस्ट स्पिनरों ने, दोनों बहुत साहसी और बेहतरीन रहे हैं। जोहान्सबर्ग के बाद उन्होंने जबरदस्त वापसी की है।”

वनडे सीरीज में जीत के बाद भी कोहली संतुष्ट नहीं है, अब उनका निशाना टी20 सीरीज जीतने पर हैं। इस बारे में उन्होंने कहा,  “दौरा अभी खत्म नहीं हुआ है, तीन टी20 मैच बाकी है। पहले दो टेस्ट मैचों में हम अपने प्रदर्शन से खुश नहीं थे। जोहान्सबर्ग टेस्ट के बाद से हमने पीछे मुड़कर नहीं देखा। मैं यहीं था, सीरीज हारने के बाद आपसे बात कर रहा था और अब फिर से मैं यहां हूं और सीरीज जीतकर आपसे बात कर रहा हूं। ये बदलाव शानदार रहा।”