© AFP
© AFP

विराट कोहली और रोहित शर्मा मौजूदा समय में टीम इंडिया की सबसे बेहतरीन जोड़ियों में से एक हैं। अभी तक दोनों ने वनडे और टी20 मे साथ-साथ झंडे गाड़े थे। अब टेस्ट क्रिकेट में भी दोनों का रंग जमने लगा है। नागपुर टेस्ट में दोनों ने आपस में 173 रनों की साझेदारी की। मैच में कोहली 213 रन बनाकर आउट हुए और रोहित 102 रन बनाकर नाबाद रहे। टेस्ट क्रिकेट में ये दोनों के बीच निभाई गई दूसरी शतकीय साझेदारी है। क्रिकेट के तीनों फॉर्मेटों की बात करें तो ये दोनों बल्लेबाज आपस में 17 शतकीय साझेदारी निभा चुके हैं। ये साल 2005 के बाद से किसी भी भारतीय जोड़ी के द्वारा बनाई गईं सबसे ज्यादा शतकीय साझेदारियां हैं। टेस्ट क्रिकेट में उनके नाम 2 शतकीय साझेदारियां हैं, वनडे में 12 और टी20 अंतरराष्ट्रीय में 3 शतकीय साझेदारियां हैं।

मैच में 102 रनों की पारी खेलने वाले रोहित के बैट से टेस्ट क्रिकेट में ये शतक 4 सालों के बाद आया है। इसके पहले उन्होंने अपने करियर के दूसरे टेस्ट में वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई में नाबाद 111 रनों की पारी खेली थी। रोहित ने अपने शुरुआती दोनों शतक अपने करियर के शुरुआती दो मैचों में लगा दिए थे जबकि उन्हें अपना तीसरा शतक लगाने के लिए 35 पारियों का इंतजार करना पड़ा।

रोहित शर्मा के शतक के साथ टीम इंडिया ने एक बड़ा रिकॉर्ड बना दिया है। जैसे ही रोहित ने शतक लगाया, इस पारी में टीम इंडिया के 4 बल्लेबाजों ने अपने शतक पूरे किए। रोहित के अलावा मुरली विजय ने 128, चेतेश्वर पुजारा ने 143 और विराट कोहली ने 213 रनों की पारी खेली। यह भारतीय क्रिकेट इतिहास में तीसरा वाकया है जब एक ही पारी में 4 बल्लेबाजों ने शतक लगाए हैं। इसके पहले साल 2010 में सहवाग, सचिन, लक्ष्मण और धोनी ने द. अफ्रीका के खिलाफ शतक लगाए थे। वहीं साल 2007 में बांग्लादेश के खिलाफ कार्तिक, जाफर, द्रविड़ और सचिन ने शतक लगाए थे।

विराट कोहली ने टेस्ट में की वनडे की तरह बैटिंग, चेतेश्वर पुजारा ने कह दी ये बात
विराट कोहली ने टेस्ट में की वनडे की तरह बैटिंग, चेतेश्वर पुजारा ने कह दी ये बात

नागपुर टेस्ट टीम इंडिया के बल्लेबाजों के लिए रनों की खान साबित हो रहा है। खेल के तीसरे दिन टीम इंडिया ने श्रीलंकाई गेंदबाजों की बखिया उधेड़ दी। पहले विराट कोहली ने दोहरा शतक जमाया और बाद में रोहित शर्मा ने शतक जड़ दिया। रोहित के शतक के फौरन बाद ही टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी 610/6 के स्कोर के साथ घोषित कर दी। इसके साथ ही टीम इंडिया ने श्रीलंका को चौथी पारी में जीतने के लिए 406 रन बनाने का लक्ष्य दिया है।