Virat Kohli: We were pushed back initially in first 6 overs, couldn’t close it off in the end
Virat Kohli, MS Dhoni © Getty Images

दूसरे टी20 मैच में भारत को हरकार इंग्लैंड ने सीरीज में बराबरी कर ली है। कार्डिफ टी20 में 5 विकेट से हारने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने माना कि शुरुआती ओवरों में विकेट गिरने के बाद टीम वापसी नहीं कर पाई। कोहली ने मैच के बाद कहा, “जब आप शुरुआती 6 ओवर में 30 रन पर तीन विकेट खो देते हैं तो वापसी करना मुश्किल होता है।”

कोहली ने आगे कहा, “मुझे लगा था कि एक साझेदारी की मदद से हम 145 तक पहुंच जाएंगे और ये मुकाबला करने लायक स्कोर होगा। इस मैदान पर घरेलू टूर्नामेंट में औसत स्कोर 145 के आसपास ही होता है। इंग्लैंड ने अतिरिक्त उछाल वाले इस विकेट का अच्छा इस्तेमाल किया, इसमें उन्हें सीमर्स की मदद मिली। उन्होंने हम पर दबाव बनाया और विकेट खोने पर मजबूर किया, उस रन आउट (शिखर धवन) से भी कोई मदद नहीं मिली। हम 15 रन पीछे रन गए।”

कैसे महेंद्र सिंह धोनी बने भारत के सबसे सफल कप्तान
कैसे महेंद्र सिंह धोनी बने भारत के सबसे सफल कप्तान

आखिरी ओवरों में नहीं हुई धमाकेदार बल्लेबाजी

कप्तान ने ये भी माना कि आखिरी के ओवरों में उस तरह की बल्लेबाजी नहीं हुई जिसकी उम्मीद थी। उन्होंने कहा, “शुरुआती 6 ओवरों में हमे पीछे धकेल दिया गया था। हमारा पहला पावरप्ले अच्छा नहीं गया था और आखिर ओवरों में बनाए स्कोर से पता चलता है कि हम उस तरह से बल्लेबाजी नहीं कर पाए, जैसा कि हम चाहते थे। आप हर चीज को ध्यान में रखते हैं, जैसे पिच वगैरह। हमने अच्छा किया और हमे पता था कि इंग्लैंड के लिए 149 का पीछा कर सीरीज बराबर कर पाना मुश्किल होगा। मुझे लगता है कि उन्हें वो साझेदारी मिल गई जो आखिरी के ओवरों में हमे नहीं मिली।”

कप्तान कोहली ने की गेंदबाजों की तारीफ

कोहली का मानना है कि भारत की हार की सबसे बड़ी वजह ये है कि विपक्षी बल्लेबाजों ने उनके प्रमुख स्पिनर कुलदीप-चहल को अच्छे से खेला। उन्होंने कहा, “हमे पता था कि मैच जीतने के लिए उन्हें काफी मेहनत करनी पड़ेगी। उन्होंने कुलदीप को काफी अच्छे से खेला। चहल ने शानदार गेंदबाजी की, दोनों टी20 मैचों में इन दोनों ने भूमिका बदली। उन्होंने कुलदीप के खिलाफ तैयारी की और उन्हें इसका फायदा भी मिला। ये गेंदबाजों के लिए मुश्किल फॉर्मेट है। उमेश ने भी अच्छी गेंदबाजी की और भुवी ने भी लेकिन वो मैच खत्म नहीं कर सके। 19वें ओवर में हेल्स ने जो बाउंड्री लगाई, वहां से मैच उनके पक्ष में वापस चला गया। टी20 में इन छोटी चीजों का बड़ा फर्क पड़ता है, इसी वजह से रोमांचक फॉर्मट है।”

टीम इंडिया को तीसरा और निर्णायक टी20 8 जुलाई को खेलना है और इस बार कप्तान कोहली हर हाल में जीत हासिल करने के लिए खेलेंगे। उन्होंने कहा, “हमे इन सब चीजों को भुलाकर अगले मैच की तरफ बढ़ना है। मेरा मानना है कि हमने कड़ा मुकाबला किया लेकिन इंग्लैंड बेहतर टीम थी, इस वजह से वो जीत सके।”