VVS Laxman feels Sixth specialist bowling option is ideal for India
Virat Kohli and VVS Laxman © IANS

पूर्व भारतीय दिग्गज वीवीएस लक्ष्मण ने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए इंग्लैंड से पहले तैयारी के लिए आयरलैंड के दौरे को कारगर बताया है। आयरलैंड का दौरा भारतीय टीम के लिए बेहतरीन वार्मअप था जहां टॉप ऑर्डर बल्लेबाजों को रन बनाने का मौका मिला। कुलदीप यादव और यजुवेंद्र चहल की गेंदबाजी को भी सही अभ्यास मिला।

टीम इंडिया को इंग्लैंड के मुश्किल दौरे की शुरुआत आज मैनचेस्टर में तीन टी-20 मैचों की सीरीज से करनी है। यहां टीम को तीन वनडे और उसके बाद पांच टेस्ट मैच भी खेलना है।

कोच और कप्तान नाम की जगह फॉर्म को दें तरजीह

लक्ष्मण ने इंग्लैंड दौरे की शुरुआत से पहले ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ के कॉलम में लिखा, भारतीय कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री के सामने टीम चयन में काफी समस्या आने वाली है। बल्लेबाजों से भरी टीम में हर कोई बेहतर फॉर्म में हैं। भरोसा है दोनों नाम की जगह हालिया फॉर्म को तरजीह देंगे।

 

छठे स्पेशलिस्ट गेंदबाज के साथ उतरे भारतीय टीम

उन्होंने टीम में छठे स्पेशलिस्ट को शामिल करने के बारे में लिखा, मैं खास तौर पर टीम को छठे स्पेशलिस्ट गेंदबाज के साथ मैदान पर देखना पसंद करूंगा। क्रुणाल पांड्या को टीम में शामिल करने से बिना बल्लेबाजी को कमजोर किए ऐसा किया जा सकता है। अगर विराट भी ऐसा ही सोचें को काफी रोचक होगा।

स्पिनर्स की मददगार होगी इंग्लैंड की कंडीशन

भारत के पास इस वक्त दुनिया के बेहतरीन स्पिनर्स में शुमार कुलदीप यादव और यजुवेंद्र चहल है। लक्ष्मण का मानना है इंग्लैंड में इस वक्त मौसम गर्म और सूखा है जो स्पिनर्स के लिए मददगार साबित होगा। मेजबान के पास बल्लेबाजी में गहराई से साथ मजबूती भी है लिहाजा सबसे बेहतरीन डॉट बॉल विकेट ही हो सकती है। गेंदबाजी को मजबूती देते हुए कप्तान कोहली को ध्यान रखना होगा किसी गेंदबाज का दिन खराब भी जा सकता है।