© Getty Images
© Getty Images

विनय कुमार के लिए आज का दिन सौगात लेकर आया है। पहले उन्होंने मैच के अपने दूसरे ओवर में ही हैट्रिक ले डाली और फिर पारी में 5 विकेट ले डाले। इसके साथ ही विनय कुमार ने एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर डाला है। दरअसल, विनय कुमार का प्रथम श्रेणी क्रिकेट में ये 22वां 5 विकेट हॉल है। इन पांच विकेटों के साथ ही विनय कुमार रणजी ट्रॉफी में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले टॉप 10 गेंदबाजों की लिस्ट में शामिल हो गए हैं। अब विनय कुमार के नाम रणजी ट्रॉफी में 371 विकेट हो गए हैं। इस तरह से वह रणजी ट्रॉफी में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में 10वें नंबर पर पहुंच गए हैं। पहले नंबर पर राजिंदर गोयल हैं जिनके नाम 637 विकेट हैं। विनय ने इस दौरान प्रसन्ना को पीछे छोड़ा है।

इसके पहले विनय ने रणजी ट्रॉफी क्वार्टरफाइनल में कर्नाटक की ओर से खेलते हुए मुंबई के खिलाफ लगातार तीन गेंदों में तीन विकेट लेते हुए हैट्रिक ले डाली। हालांकि, उन्होंने ये हैट्रिक दो अलग-अलग ओवरों में पूरी की। पहले उन्होंने पहले ओवर की आखिरी गेंद पर पृथ्वी शॉ को आउट किया। इसके बाद अगले ओवर की पहली दो गेंदों पर जय बिस्टा और आकाश पारकर को आउट किया। यह प्रथम श्रेणी क्रिकेट में विनय की दूसरी हैट्रिक है। इसके साथ ही वह अनिल कुंबले के बाद कर्नाटक के लिए 2 हैट्रिक लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। इसके अलावा वह रणजी ट्रॉफी नॉकआउट में हैट्रिक लेने वाले छठवें गेंदबाज बन गए हैं।

खिलाड़ी विकेट
राजिंदर गोयल 637
श्रीनिवास वेंकटराघवन 530
सुनील जोशी 479
नरेंद्र हिरवानी 441
भागवत चंद्रशेखर 437
वीवी कुमार 418
साइराज बाहुतुले 405
बिशन सिंह बेदी 403
उत्पल चटर्जी 401
विनय कुमार 370+

 

विनय कुमार इस टूर्नामेंट में कर्नाटक टीम की कप्तानी कर रहे हैं। विनय के आगे मुंबई इंडियंस नतमस्तक नजर आई। खबर लिखे जाने तक मुंबई ने 9 विकेट पर 140 रनों का स्कोर बना लिया है। इस दौरान 6 विकेट विनय कुमार ने झटके हैं। विनय का गेंदबाजी विश्लेषण 33 रन देकर 6 विकेट रहा है। मुंबई की ओर से इस दौरान धवल कुलकर्णी सबसे ज्याद 51 रन बनाकर खेल रहे हैं। वहीं 8 बल्लेबाज अपना खाता नहीं खोल पाए।