© Getty Images
© Getty Images

केपटाउन में द.अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में एक बार फिर टीम इंडिया ने जबर्दस्त वापसी की है। चौथे दिन के लंच तक टीम इंडिया ने द.अफ्रीकी टीम को दूसरी पारी में 130 रनों पर ढेर कर दिया। हैं। द.अफ्रीका को पहली पारी के आधार पर कुल 207 रनों की बढ़त हासिल हुई और अब टीम इंडिया को जीत के लिए 208 रनों की जरूरत है। तीसरे दिन का खेल भले ही बारिश के चलते धुल गया लेकिन चौथे दिन चमचमाते सूरज ने दोनों टीमों का स्वागत किया।

टीम इंडिया के गेंदबाजों ने मैदान में उतरते ही द.अफ्रीकी बल्लेबाजों पर हल्ला बोल दिया। मोहम्मद शमी ने हाशिम आमला और कागिसो रबाडा को पैवेलियन भेजा, तो वहीं जसप्रीत बुमराह ने फाफ डु प्लेसी और क्विंटन डी कॉक को आउट कर 92 रन पर 6 विकेट गिरा दिए। फिर शमी ने फिलेंडर और भुवनेश्वर ने केशव महाराज, मॉर्ने मॉर्कल को आउट कर द.अफ्रीका के 9 विकेट गिरा दिए। आखिर में बुमराह ने डी विलियर्स को 35 रनों पर आउट कर विरोधी टीम को महज 130 पर समेट दिया। लंच तक टीम इंडिया और द.अफ्रीका के खिलाड़ियों ने कुछ दिलचस्प आंकड़े अपने नाम किए, आइए डालते हैं उन पर एक नजर

1. तेज गेंदबाजों का जलवा- टीम इंडिया के टेस्ट इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि उसके 4 तेज गेंदबाजों ने एक टेस्ट मैच में कम से कम 3 विकेट जरूर लिए हैं। भुवनेश्वर, मोहम्मद शमी, हार्दिक पांड्या और अपना पहला टेस्ट खेल रहे जसप्रीत बुमराह ने केपटाउन टेस्ट में कम से कम 3 विकेट जरूर झटके हैं। यही नहीं टीम इंडिया के चारों तेज गेंदबाजों ने दोनों पारियों में कम से कम 1-1 विकेट झटका है जो कि पहली बार हुआ है।

2. रिद्धिमान साहा ने तोड़ा धोनी का रिकॉर्ड- टीम इंडिया के विकेटकीपर रिद्धिमान साहा ने केपटाउन टेस्ट में एम एस धोनी के बड़े रिकॉर्ड को तोड़ दिया। साहा ने खबर लिखे जाने तक केपटाउन टेस्ट की दोनों पारियों में कुल 10 कैच लपके जो कि किसी भी भारतीय विकेटकीपर का सबसे अच्छा प्रदर्शन है। इससे पहले एम एस धोनी ने साल 2014 में मेलबर्न टेस्ट के दौरान विकेट के पीछे 9 शिकार किए थे।

3. हाशिम आमला का अनचाहा रिकॉर्ड- हाशिम आमला केपटाउन टेस्ट में दोनों पारियों में कुल 7 रन ही बना सके। ये द.अफ्रीका में उनके टेस्ट करियर का तीसरा सबसे खराब प्रदर्शन है। हाशिम आमला ने साल 2004, 2006 में डरबन में दोनों पारियों में कुल 1 रन बनाया था। 2007 में वो पाकिस्तान के खिलाफ केपटाउन टेस्ट में 5 रन बना सके थे और अब भारत के खिलाफ वो केपटाउन में ही दोनों पारियों में 7 ही रन बना सके।

भारत में नहीं द.अफ्रीका में होगा आईपीएल 12?
भारत में नहीं द.अफ्रीका में होगा आईपीएल 12?

4. डु प्लेसी ने किया निराश- द.अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसी दूसरी पारी में शून्य पर आउट हुए। वो भारत के खिलाफ पिछली 12 टेस्ट पारियों में से 4 बार शून्य पर पैवेलियन लौट चुके हैं। फाफ डु प्लेसी भारत के खिलाफ द.अफ्रीकी सरजमीं पर शून्य पर आउट होने वाले तीसरे कप्तान हैं। इससे पहले केपलर वेसल्स 1992,1993, शॉन पोलॉक 2001 में टीम इंडिया के खिलाफ शून्य पर आउट हुए थे।