कुछ मैचों में कप्तानी करने वाले सबसे सफल पांच इंडियन कैप्टन
फोटो साभार: indialovesachin.blogspot.com

कालांतर से ही भारतीय टीम को ऐसे क्रिकेट कप्तान प्राप्त हुए हैं जिन्होंने टीम इंडिया को नई ऊंचाईयों तक पहुंचाने में एक अभिन्न भूमिका निभाई। चाहे कपिल देव हों या महेंद्र सिंह धोनी हर कप्तान भारतीय टीम के लिए खास रहा है। लेकिन इनके अतिरिक्त भी कुछ भारतीय खिलाड़ियों ने नियमित कप्तान की अनुपस्थिति में कप्तानी की और टीम इंडिया को नई ऊंचाईयों तक पहुंचाया। हम ऐसे ही पांच कप्तानों के बारे में आपको बताने जा रहे हैं जो अस्थाई कप्तान रहते हुए सबसे सफल रहे।

1. गौतम गंभीर:

5 most successful temporary Indian captain
फोटो साभार: www.oneindia.com

भले ही गौतम गंभीर आजकल टीम इंडिया में जगह न बना पा रहे हों। लेकिन आईपीएल में केकेआर के कप्तान के रूप में जिस तरह से उन्होंने टीम को फर्श से अर्श तक उठाने का काम किया है उसने उनकी कप्तानी प्रतिभा को अनोखे रूप में विश्व के सामने प्रस्तुत किया है। यहां तक कि भारतीय टीम की ओर से कप्तानी करते हुए भी गंभीर को काफी सफलता मिली हैं।

गंभीर ने भारत की ओर से कुल 6 मैचों में कप्तानी की है जिनमें उन्होंने 6 के 6 मैच जीते हैं और इस तरह उनका जीत का प्रतिशत 100% हैं। गंभीर ने भारत के लिए कप्तानी न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू श्रृंखला में की थी और इस दौरान वह भारत की ओर से कप्तानी करने वाले 21वें कप्तान बने थे। पांच मैचों की वनडे सीरीज में भारत ने मेहमानों का सूपड़ा साफ कर दिया था और खुद गंभीर ने उस सीरीज में दो शतक जड़ते हुए 329 रन बनाए थे व मैन ऑफ द सीरीज रहे थे। 

2. पॉली उमरीगर:

5 most successful temporary Indian captain
फोटो साभार: www.rediff.com

पॉली उमरीगर 1950- 60 के दशक में भारत के सबसे सफल बल्लेबाज थे। उन्होंने 40 की ऊपर के औसत के साथ टेस्ट में 3000 रन बनाए हैं। अपने करियर में 59 मैच खेलने वाले उमरीगर ने बहुत थोड़े समय के लिए भारतीय टीम की कप्तानी की। उन्होंने सबसे पहले 1955/56 में भारत आई न्यूजीलैंड टीम के खिलाफ कप्तानी की। हालांकि, दो मैचों के बाद उमरीगर से कप्तानी का प्रभार वापस ले लिया गया। भारत ने इस सीरीज को 2-0 से जीता और ये दोनों जीत उमरीगर की कप्तानी में आईं। उमरीगर ने भारत की ओर से कुल 8 मैचों में कप्तानी की जिसमें उन्होंने 2 मैच जितवाए, दो में हार मिली और बाकी 4 ड्रॉ रहे।

3. अजय जडेजा:

5 most successful temporary Indian captain
फोटो साभार: www.thecricketmonthly.com

एक समय था जब अजय जडेजा को भारतीय टीम का एक बेहतरीन बल्लेबाज माना जाता था। उन्होंने अपने 5,000 रन 200 वनडे में 37.47 की औसत के साथ बनाए थे जो उस समय बढ़िया औसत माना जाता था। लेकिन फिक्सिंग प्रकरण ने सभी कुछ बिगाड़कर रख दिया। जडेजा ने अजहरुद्दीन की अनुपस्थिति में टीम की कुल 13 वनडे मैचों में अगुआई की जिसमें उन्हें 8 में जीत और 5 में हार का सामना करना पड़ा। बतौर कप्तान जडेजा का विनिंग प्रतिशत 61.53 का है। जब फिक्सिंग के कारण उनका करियर खत्म हुआ उसके पहले माना जा रहा था कि जडेजा अजहरुद्दीन के बाद भारतीय टीम के कप्तान होंगे।

4. सुरेश रैना:

5 most successful temporary Indian captain
फोटो साभार: sify.com

सुरेश रैना भले ही आज अपनी चरम फॉर्म में न हों। लेकिन ये किसी से छुपा नहीं है कि वह लिमिटेड ओवर स्पेशलिस्ट हैं। बाएं हाथ के बल्लेबाज रैना ने वनडे में 5,568 रन बनाए हैं और टी20 में उनके नाम 1,000 से ज्यादा रन हैं। कालांतर में रैना को भी भारतीय टीम की ओर से कप्तानी करने का मौका मिला है। रैना ने भारतीय टीम की अगुआई कुल 12 मैचों में की है। जिसमें उन्हें 6 में जीत और 5 में हार का सामना करना पड़ा है।

रैना ने अपनी कप्तानी में टीम इंडिया को वेस्टइंडीज के खिलाफ 3-2 से जीत दिलवाई थी वहीं बांग्लादेश के खिलाफ 2-0 से जीत दिलवाई थी। स्टुअर्ट बिन्नी ने जब 6/4 का रिकॉर्ड बनाया था तब रैना ही टीम के कप्तान थे। टी20 मैचों में भी रैना ने भारतीय टीम की अगुआई की है और उन्होंने रिजल्ट 100 प्रतिशत दिया है। रैना ने जिम्बाब्वे के खिलाफ दो टी20 मैचों में भारतीय टीम की अगुआई की थी और दोनों मैचो में भारतीय टीम को जीत दिलवाई थी। वहीं वेस्टइंडीज के खिलाफ उन्होंने एक टी20 मैच में भारतीय टीम की कप्तानी की है जिसमें उन्होंने भारतीय टीम को जीत दिलवाई थी।

5. वीरेंद्र सहवाग:

5 most successful temporary Indian captain
फोटो साभार: thenews.com.pk

भारत के विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने जब तक क्रिकेट खेली उन्होंने अपनी तेज तर्रार बल्लेबाजी से क्रिकेट जगत को खूब रोमांचित किया। उन्होंने वनडे और टेस्ट में भारत की ओर से जबरदस्त बल्लेबाजी का मुजाहिरा पेश किया। अपने 12 साल के लंबे करियर में सहवाग ने भारतीय टीम की तीनो फॉर्मेट में अगुआई की। टेस्ट मैचों में सहवाग ने टीम इंडिया की 4 मैचों में अगुआई की। जिसमें से 2 मैच टीम इंडिया ने जीते और एक ड्रॉ रहा व एक इंडिया हारी।

वनडे में सहवाग ने 12 मैचों में कप्तानी की और 7 जीत दर्ज की। जब उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ 219 रनों की पारी खेली उस समय वह टीम इंडिया की अगुआई कर रहे थे। इसके अलावा उन्होंने एक टी20 मैच में भी उन्होंने टीम इंडिया की अगुआई की जिसमें टीम इंडिया को जीत मिली।