Amazing co-incidence: Whenever MS Dhoni scored century, Sachin Tendulkar flopped

पूरी दुनिया सचिन से शतक की उम्मीद करती थी, मास्टर ब्लास्टर के बल्ले से निकला शतक करोड़ों भारतीय फैंस को खुशी देता था, लेकिन अगर एक संयोग पर गौर करें तो आपको ऐसा लगेगा मानो धोनी कभी नहीं चाहते होगें कि सचिन दस रन के आंकड़े को छुएं। अब आप सोचेंगे की क्या बकवास है धोनी ऐसा क्यों चाहेंगे। दरअसल वनडे क्रिकेट में धोनी ने जब भी शतक बनाया सचिन तेंदुलकर दस रन के भीतर आउट हुए। सिर्फ एक मौके पर धोनी के शतक बनाने के बावजूद सचिन ने दहाई के आंकड़े को छू सके।

महेन्द्र सिंह धोनी ने अपने वनडे करियर में अब तक कुल 296 वनडे मैच खेले हैं जिनमें उन्होने 10 शतक बनाए हैं। धोनी ने सचिन के साथ कुल 117 वनडे मैच खेले जिनमें उनके बल्ले से कुल 3,765 रन निकले जिनमें 4 शतक भी शामिल रहे। तो आइए जानते हैं इस चार शतकों की कहानी।

1. पाकिस्तान के खिलाफ 148 रन सचिन 2 रन:

Amazing coincidences behind MS Dhoni centuries
फोटो साभार: indiatoday.intoday.in

पाकिस्तान के खिलाफ धोनी ने 148 रन की शानदार पारी खेलकर वनडे क्रिकेट का अपना पहला शतक बनाया। इस मैच में सचिन तेंदुलकर मात्र 2 रन बनाकर आउट हुए। भारत ने पाकिस्तान को 58 रनों से हराकर जीत हासिल की।

2. श्रीलंका के खिलाफ 183 सचिन 2 रन:

Amazing coincidences behind MS Dhoni centuries
फोटो साभार: cricbuzz.com

31 अक्टूबर 2005 को महेन्द्र सिंह धोनी के बल्ले से दूसरा शतक निकला। इस बार उन्होने श्रीलंकाई गेंदबाजों की धुनाई करते हुए 183 रनों की पारी खेली, लेकिन संयोग देखिये सचिन के बल्ले से इस बार भी सिर्फ 2 रन निकले। इस मैच में भी भारत को 6 विकेट से जीत मिली।

3. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 124 सचिन 4 रन:

Amazing coincidences behind MS Dhoni centuries
फोटो साभार: sify.com

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक बार फिर से धोनी के बल्ले ने आग उगला और उनके बल्ले से 5वां शतक निकला, लेकिन सचिन की मौजूदगी में ये उनका तीसरा शतक जमाया। इत्तेफाक देखिये इस बार सचिन सिर्फ 4 रन ही बना सके। इस बार भी भारत को 99 रनों से जीत हासिल हुई।

4. श्रीलंका के खिलाफ 107 सचिन 43 रन:

Amazing coincidences behind MS Dhoni centuries
फोटो साभार: msdhonipage.blogspot.in

सचिन की मौजूदगी में धोनी ने अपना चौथा शतक श्रीलंका के खिलाफ 2009 में लगाया। इसके बाद धोनी सचिन की मौजूदगी में कभी सैकड़ा नहीं बना सके। इस बार धोनी ने 107 रनों की पारी खेली लेकिन इस बार सचिन ने इत्तेफाक पूरा नहीं होने दिया और दहाई के आंकड़े तक पहुंच और 43 रनों की पारी खेली हालांकि वो अर्धशतक नहीं बना सके। हालांकि इस बार श्रीलंका ने भारत को 3 विकेट से हरा दिया।