Australia lean towards return of batting coach for Ashes and beyond
ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम.

इस साल के शुरुआत में भारत से टेस्ट सीरीज में मिली हार और एशेज सीरीज को देखते हुए ऑस्ट्रेलिया टीम बल्लेबाजी कोच या सलाहकार नियुक्त कर सकती है. भारत के खिलाफ चार मैचों की सीरीज में ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष छह बल्लेबाज संघर्ष करते दिखे थे. मार्नस लाबुशेन और स्टीवन स्मिथ ही शतक बना सके थे. लाबुशेन एकमात्र बल्लेबाज थे, जिन्होंने सीरीज में 50 के ज्यादा के औसत से रन बनाए थे.

ऑस्ट्रेलिया की टीम सात में से छह पारियों में 350 से ज्यादा का स्कोर बनाने में नाकाम रही थी और उसे 1-2 से हार का सामना करना पड़ा था. कोरोना वायरस के कारण वित्तीय स्थिति को देखते हुए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बल्लेबाजी कोच की भूमिका को पिछले साल जून में समाप्त कर दिया था, लेकिन भारत के खिलाफ प्रदर्शन को देखते हुए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को बल्लेबाजी कोच नियुक्त करने की जरूरत पड़ रही है.

ऑस्ट्रेलिया की टीम बल्लेबाजी कोच के साथ पिछले 12 वर्षो से टेस्ट खेल रही थी. मौजूदा मुख्य कोच जस्टिन लेंगर 2009 से 2012 तक बल्लेबाजी कोच रहे थे, जबकि माइकल डी वेनुतो ने 2013 से 2016 तक यह जिम्मेदारी संभाली. ग्रीम हिक 2016 से पिछले साल जून तक ऑस्ट्रेलिया टीम के बल्लेबाजी कोच रहे थे. इस पद के लिए पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग और स्टीव वॉ पहली पसंद के रूप में उभर रहे हैं, जबकि क्रिस रोजर्स, एडम वोग्स और जेफ वॉन भी दौड़ में शामिल हैं. (IANS)