टेस्ट मैचों में सबसे कम गेंदों में 250+ रन बनाने वाले पांच बल्लेबाज
फोटो साभार: www.sportskeeda.com

टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाज अक्सर धैर्य से बल्लेबाजी करते नजर आते हैं। यही कारण है कि ज्यादातर बल्लेबाजों का शतक पूरा करने के समय स्ट्राइक रेट 50 से 60 के बीच ही होता है। लेकिन टेस्ट क्रिकेट में ऐसे बल्लेबाज भी हैं जो टेस्ट क्रिकेट में वनडे की तरह बल्लेबाजी करते थे। आज हम आपको ऐसे बल्लेबाजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज स्ट्राइक रेट के साथ 250 से ज्यादा रन बनाए। इस लिस्ट में ऐसे बल्लेबाज भी शामिल है जिन्होंने 250 से ज्यादा रन एक या दो बार नहीं बल्कि तीन बार 100 से ज्यादा के स्ट्राइक रेट से बनाए। तो आइए आपको ऐसे ही कुछ बल्लेबाजों से रूबरू कराते हैं।

1. वीरेंद्र सहवाग(254) बनाम पाकिस्तान:भारत के वीरेंद्र सहवाग ने साल 2006 में पाकिस्तान के खिलाफ मैच में 247 गेंदों में 254 रन ठोके थे। इस दौरान जब उन्होंने अपना दोहरा शतक पूरा किया तो वह 103 के स्ट्राइक रेट के साथ पूरा किया था। सहवाग ने इस पारी में कुल 47 चौके और एक छक्का जड़ा था। सहवाग ने इस पारी के दौरान शोएब अख्तर, नवेद उल हसन और मोहम्मद शमी जैसे काबिल गेंदबाजों का सामना किया था। गौर करने वाली बात ये है कि सहवाग ने इतने रन मैच के पहले ही दिन बना डाले थे और वह दिन के 77.2 ओवर में आउट हुए थे। [ये भी पढ़ें: ]

2. वीरेंद्र सहवाग(319) बनाम दक्षिण अफ्रीका:

Rare facts about Virendar Sehwag
Photo courtesy: essentiallysport

वीरेंद्र सहवाग ने साल 2008 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 319 रन ठोक दिए थे। इस दौरान उन्होंने अपने क्रिकेट जीवन का दोहरा शतक तो जड़ा ही साथ ही जब उन्होंने अपने 250 रन पूरे किए तब उनका स्ट्राइक रेट 105 का था। सहवाग ने इस मैच में 304 गेंदों में 319 रन बनाए थे। जिसमें 42 चौके और 5 छक्के शामिल थे। सहवाग ने 250 रन सबसे ज्यादा स्ट्राइक रेट के साथ बनाने का रिकॉर्ड खुद ही तोड़ डाला था।

3. वीरेंद्र सहवाग(293) बनाम श्रीलंका:

वीरेंद्र सहवाग ने साल 2009 में श्रीलंका के खिलाफ एक बार फिर से आतिशी पारी खेली और आनन फानन में 293 रन बना डाले। लेकिन वह अपने तीसरे तिहरे शतक से 7 रन पहले ही आउट हो गए। सहवाग ने इस पारी को खेलने के दौरान 250 रन 115 के स्ट्राइक रेट से बना डाले थे। सहवाग ने इस मैच में 293 रन 254 गेंदें में बनाए थे जिसमें 40 चौके और 7 छक्के शामिल थे। गौर करने वाली बात ये रही कि सहवाग 293 रन बनाकर मैच के पहले ही दिन 83वें ओवर में आउट हुए थे। टेस्ट मैच में 115 के स्ट्राइक रेट 250 रन पूरा करने का रिकॉर्ड अभी भी सहवाग के नाम पर है।

4. एडम वोजेस(269) बनाम वेस्टइंडीज:

फोटो साभार: www.sportskeeda.com
फोटो साभार: www.sportskeeda.com

ऑस्ट्रेलिया के एडम वोजेस 36 साल की उम्र में ऑस्ट्रेलिया टीम में नजर आए हैं। लेकिन जिस तरह की बल्लेबाजी वह करते हैं उसका कोई जवाब नहीं है। अभी तक 15 टेस्ट मैच खेल चुके वोजेस का करियर औसत 95 है। इस तरह से वह ऑलटाइम ग्रेट डॉन ब्रेडमेन से चार कदम ही पीछे हैं। वोजेस के नाम अब तक कुल 2 दोहरे शतक हैं। वोजेस ने वेस्टइंडीज के खिलाफ साल 2015 में 285 गेंदों पर 269 रन ठोके थे। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 94 से ऊपर रहा था। इस पारी में वोजेसे 33 चौके लगाए थे और छक्का कोई नहीं लगाया था।

5. डेविड वॉर्नर(253) बनाम न्यूजीलैंड:

फोटो साभार: www.abc.net.au
फोटो साभार: www.abc.net.au

साल 2015 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच पर्थ में खेले गए टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने 286 गेंदों में 253 रन बनाए थे। 250 रन बनाने के वक्त उनका स्ट्राइक रेट 88 के रहा था। वॉर्नर ऑस्ट्रेलिया के सबसे तूफानी बल्लेबाजों में से एक हैं और उन्हें कई लोग मॉर्डन सहवाग भी कहते हैं। कहने का मतलब सीधा है कि वह सहवगा की ही तरह टेस्ट मैच में तेजतर्रार बल्लेबाजी करते हैं। वॉर्नर का टेस्ट में करियर स्ट्राइक रेट 75 से ऊपर है जो कई 90 के बल्लेबाजों के वनडे के स्ट्राइक रेट के आसपास है।