रोहित शर्मा  © AFP (file photo)
रोहित शर्मा © AFP (file photo)

साल 2016 अपने अंतिम चरण की ओर अग्रसर हो रहा है। टीम इंडिया के लिहाज से इस साल को देखा जाए तो साल मिला जुला रहा है। भारतीय टीम को साल की पहली वनडे सीरीज में ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन टी20 सीरीज में उन्होंने शानदार वापसी करते हुए ऑस्ट्रेलिया को 3-0 से पटखनी दी। इसके बाद टीम इंडिया ने श्रीलंका को टी20 सीरीज में अपने घर में हराया और फिर टी20 एशिया कप में भी टीम इंडिया ने जीत हासिल करते हुए विश्व कप टी20 2016 में प्रवेश किया। हालांकि, इस टूर्नामेंट में इंडिया टीम ने शुरुआत काफी अच्छी की थी लेकिन अंततः उन्हें टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा। बाद की सीरीजों में टीम इंडिया ने अच्छा प्रदर्शन जारी रखा। जिसका श्रेय बिना किसी शक के बल्लेबाजों और गेंदबाजों को जाता है। इस दौरान सवाल उठता है कि इस साल अब तक किन बल्लेबाजों ने वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा छक्के जड़े हैं। आइए जानते हैं। [ये भी पढ़ें: भारत ने जीती सीरीज लेकिन इन 5 खिलाड़ियों पर लटक गई तलवार]

5. एरन फिंच(ऑस्ट्रेलिया): ऑस्ट्रेलिया के एरन फिंच इस साल वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा छक्के जड़ने के मामले में पांचवें स्थान पर हैं। उन्होंने इस साल 22 मैचों की 20 पारियों में 19 छक्के जड़े हैं। साथ ही उन्होंने 70 चौके भी जड़े हैं। इस दौरान उनका रन बनाने का औसत खास नहीं रहा है और 31.65 की औसत से 653 रन ही बना पाए हैं। जिसमें 1 शतक और 5 अर्धशतक शामिल हैं। इस दौरान वह 1 बार शून्य पर आउट भी हुए हैं। साथ ही फिंच ने इस दौरान 96.93 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। फिंच वर्तमान में ऑस्ट्रेलिया के धाकड़ बल्लेबाजों में से एक हैं और वह शुरुआती ओवरों में बड़े स्ट्रोक्स लगाने से कभी नहीं चूकते।

4. रोहित शर्मा(भारत): इस सूची में चौथे नंबर पर भारत के रोहित शर्मा का नाम है। रोहित ने इस साल खेले 10 वनडे मैचों में ही 19 छक्के जड़ दिए हैं। साथ ही उन्होंने 46 चौके भी जड़े हैं। इस दौरान रोहित का रन बनाने का औसत 62.66 का रहा है और उन्होंने 564 रन बनाए हैं। रोहित ने इस दौरान दो शतक और दो अर्धशतक जड़े हैं। इस साल वह सभी फॉर्मेटों में भारत की ओर से सबसे ज्यादा छक्के जड़ने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने टेस्ट में 8 छक्के जड़े हैं तो टी20 में 19 छक्के जड़े हैं। हिटमेन ने इस साल हर फॉर्मेट में कमाल दिखाया है। अगले कुछ दिनों में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज शुरू होने वाली है। ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि हिटमेन के बल्ले से कितने और छक्के देखने को मिलते हैं। इस साल रोहित का सर्वोच्च स्कोर 171* रहा है जो उन्होंने इस साल की शुरुआत में ही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया था।

3. मार्टिन गप्टिल(न्यूजीलैंड): भले ही भारत के खिलाफ हाल ही में संपन्न हुई वनडे सीरीज में मार्टिन गप्टिल कुछ खास न कर सके हों। लेकिन इसके बावजूद उन्होंने हर विभाग में अपने प्रदर्शन से सबको चौंकाया जरूर है। उन्होंने इस साल 12 वनडे मैच खेलकर 12 पारियों में कुल 20 छक्के जड़े हैं। साथ ही वह 52 चौके जड़ने में कामयाब हुए हैं। इस दौरान उन्होंने 1 शतक और एक अर्धशतक जड़ा है। जिसमें 42.75 की औसत से 513 रन बनाए हैं। गप्टिल का स्ट्राइक रेट भी 97.71 का रहा है जो रोहित शर्मा से ज्यादा है। जबसे ब्रैंडन मैकमल ने संन्यास लिया है तबसे शुरुआती आतिशी बल्लेबाजी की कमान खुद गप्टिल ने अपने कंधों पर ली है। जाहिर है कि अगले कुछ दिनों में यह रणनीति फिर से कारगर साबित हो।

2. जोश बटलर(इंग्लैंड): इंग्लैंड के जोश बटलर इस क्रम में दूसरे स्थान पर हैं। हों भी क्यों न, वह इस साल के सबसे आतिशी बल्लेबाज जो हैं। उन्होंने इस साल अब तक कुल 16 वनडे मैच खेले हैं जिनमें 57.30 की औसत से 573 रन तो बनाए ही हैं साथ ही 21 छक्के भी जड़े हैं। बटलर के बल्ले से इस दौरान कुल 50 चौके निकले हैं। इसके अलावा वह इस दौरान 1 शतक और 5 अर्धशतक जड़ने में कामयाब हुए हैं। बटलर का इस साल स्ट्राइक रेट विश्व में सर्वोच्च रहा है और उन्होंने 129.93 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। बटलर वर्तमान में इंग्लैंड के सबसे आतिशी बल्लेबाजों में से एक हैं।

1. क्वींटन डी कॉक(दक्षिण अफ्रीका): दक्षिण अफ्रीका के युवा ओपनिंग बल्लेबाज क्वींटन डी कॉक ने इस साल हर विभाग में अच्छे हाथ दिखाए हैं। उन्होंने इस साल 17 वनडे मैचों की 17 पारियों में 57.13 की औसत से 857 रन तो बनाए ही हैं साथ ही 26 छक्के भी जड़े हैं। इस साल छक्के जड़ने के मामले में वह सबसे ऊपर हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 91 चौके भी निकले हैं। बात करें शतकों की तो वह 3 शतक जड़ने में कामयाब हुए हैं। उनका सर्वोच्च स्कोर 178 रहा है। स्ट्राइक रेट भी का 108.61 का रहा है। साथ ही वह 3 अर्धशतक जड़ने में भी कामयाब हुए हैं। डी कॉक ने इस साल दक्षिण अफ्रीका को कई करीबी मैचों में जीत दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।