वनडे में सबसे कम इकॉनमी रेट से रन देने वाले वाले 5 गेंदबाज
फोटो साभार: www.smh.com.au

वनडे क्रिकेट में ऐसे कई गेंदबाज हुए हैं जिनकी गेंदों में चौके- छक्के तो दूर की बात है एक रन चुराना भी बल्लेबाज के लिए मुश्किल होता था। इन्हीं गेंदबाज ने इकॉनमी रेट के कई दिलचस्प रिकॉर्ड अपने नाम किए और अपने समकक्ष कई महान बल्लेबाजों को रनों के लिए कई सालों तक तरसाए रखा। आज हम ऐसे ही पांच बेहतरीन गेंदबाजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका वनडे में इकॉनमी रेट बेहतरीन है। इस लिस्ट में हमने 225 से ज्यादा मैच खेलने वाले गेंदबाजों को शामिल किया है।

1. शॉन पोलक:

Best career economy rate
फोटो साभार: AFP

दक्षिण अफ्रीका के बेहतरीन गेंदबाज शॉन पोलक ने दक्षिण अफ्रीका के लिए साल 1996 से 2008 के बीच कुल 303 मैच खेले और 393 विकेट लिए। इस दौरान उन्होंने 3.67 की इकॉनमी रेट के साथ रन दिए। वनडे में 225 से ज्यादा मैच खेलने वाले खिलाड़ियों में पोलक सबसे कम इकॉनमी रेट से रन देने का रिकॉर्ड है। पोलक ने अपने वनडे करियर में कुल 15712 गेंदें फेकी और 9631 रन दिए। साथ ही उन्होंने 5 बार 5 विकेट और 12 बार 4 विकेट लिए। पोलक का गेंदबाजी औसत 24.50 का था जो वनडे क्रिकेट में बेहतरीन माना जाता है। साथ ही उनका बेस्ट बॉलिंग रिकॉर्ड 35/6 है। साल 2006 में जब भारत दक्षिण अफ्रीका गया था तो उन्होंने सचिन तेंदुलकर को खूब परेशान किया था।

2. कपिल देव:

Best career economy rate
फोटो साभार: www.cricketcountry.com

टेस्ट मैचों में कपिल देव के नाम 434 विकेट हैं। टेस्ट की ही तरह वनडे में भी कपिल खूब सफल रहे हैं। भारत के लिए 1978 से 1994 तक क्रिकेट खेलने वाले कपिल देव ने कुल 225 वनडे मैच खेले जिनमें उन्होंने 253 विकेट लिए। साथ ही इस दौरान उन्होंने 3.71 की इकॉनमी रेट के साथ रन दिए। जो बताता है कि रन देने के मामले में कपिल कितने कंजूस थे। कपिल की गेंदों पर रन बनाना कतई आसान नहीं होता था यही कारण है कि उस दौर में कपिल भारतीय टीम के सबसे बेहतरीन गेंदबाज थे। कपिल ने अपने करियर में कुल 3 बार चार विकेट और एक बार 5 विकेट लिए। उनका बेस्ट बॉलिंग रिकॉर्ड 43/5 था। साथ ही गेंदबाजी का औसत 27.45 का था।

3. ग्लेन मैक्ग्रेथ:

www.cricketcountry.com
फोटो साभार: Getty Images

ऑस्ट्रेलिया ने 1999 से 2007 तक वनडे क्रिकेट में खूब दबदबा बनाया और इस दबदबे में बहुत बड़ा हाथ ग्लेन मैक्ग्रेथ का रहा। मैक्ग्रेथ एक ऐसे गेंदबाज थे जो गेंदों की लंबाई- चौड़ाई को ध्यान में रखकर गेंदें फेंकते थे जिससे कि उनकी गेंदों में स्ट्रोक लगाना कतई आसान नहीं होता था। ऑस्ट्रेलिया के लिए 250 वनडे खेलने वाले मैक्ग्रेथ ने कुल 381 विकेट लिए और इस दौरान उनके रन देने का इकॉनमी रेट 3.88 रहा।

इतने मैच खेलकर इकॉनमी रेट इतना कम रखना वास्तव में काबिले- तारीफ है। मैक्ग्रेथ ने करियर में 9 बार चार विकेट और 7 बार पांच विकेट लिए। उनका गेंदबाजी औसत 22.02 और स्ट्राइक रेट 34.0 का है। मैक्ग्रेथ का बेस्ट बॉलिंग रिकॉर्ड 15/7 है। मैक्ग्रेथ ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 1993 से 2007 तक क्रिकेट खेली।

4. वसीम अकरम:

Best career economy rate
फोटो साभार: pakifreeimagess1.blogspot.com

पाकिस्तान के लिए साल 1984 से 2003 तक क्रिकेट खेलने वाले वसीमअकरम ने कुल 356 वनडे मैच खेले जिनमें उन्होंने 502 विकेट लिए। इस दौरान उनका इकॉनमी रेट 3.89 का रहा। स्विंग के बादशाह अकरम का गेंदबाजी औसत 23.52 का है। उन्होंने अपने करियर में 18,186 गेंदें फेंकी और 11,812 रन दिए। इस दौरान उन्होंने 17 बार 4 विकेट और 6 बार 5 विकेट लिए। वसीम का बेस्ट बॉलंग फिगर 15 रन देकर 5 विकेट है।

5. मुथैया मुरलीधरन:

pakifreeimagess1.blogspot.com
फोटो साभार: foxsports.com.au

श्रीलंका के लिए साल 1992 से 2011 तक क्रिकेट खेलने वाले मुथैया मुरलीधरन ने कुल 350 वनडे मैच खेले और इस दौरान उन्होंने 534 विकेट लिए। मुरली का रन देने का औसत 3.93 का है। वह 15 बार 4 विकेट और 10 बार 5 विकेट ले चुके हैं। उनका सर्वोच्च गेंदबाजी विश्लेषण 30 रन देकर 7 विकेट है। गेंदबाजी औसत 23.08 और स्ट्राइक रेट 35.2 का था।