भारतीय टेस्ट क्रिकेट इतिहास के 10 सबसे बेहतरीन बल्लेबाज
फोटो साभार: wallpapersmela.com

टेस्ट क्रिकेट जबसे शुरू हुआ है तबसे यह कई बेहतरीन बल्लेबाजों की करिश्माई बल्लेबाजी का गवाह बना है। वहीं अगर भारतीय टीम की बात करें तो इस टीम ने क्रिकेट में गेंदबाजों की बजाय बेहतरीन बल्लेबाज देने में अहम भूमिका निभाई है। वैसे तो भारतीय टीम ने कालांतर में कई उच्च श्रेणी के बल्लेबाज क्रिकेट को दिए, लेकिन उनमें से सबसे बेहतरीन कौन है? इसकी गणना हमने तीन मानकों के आधार पर की है। ये तीन मानक हैं- पूरे करियर के दौरान बल्लेबाजी में लय, करियर में बनाए कुल रन, और टीम की जरूरत के वक्त चलने वाला।

10. पॉली उमरीगर: 

Best Test Match Indian cricketer of all time
फोटो साभारछ www.cricketcountry.com

साल 1948 में भारतीय टेस्ट टीम की ओर से पदार्पण करने वाले पॉली उमरीगर ने 1950 और 1960 के दशक में बेहतरीन बल्लेबाजी का मुजाहिरा पेश किया और भारतीय टीम की बल्लेबाजी स्टाइल को एक नई दिशा दी। टेस्ट मैच में भारतीय टीम की ओर से पहला दोहरा शतक लगाने वाले उमरीगर पहले बल्लेबाज बने। लेकिन उनके लिए सबसे ज्यादा दुर्भाग्य की बात यह रही कि जब भी वे अपने बैट से चमके ज्यादातर मौकों पर टीम को हार का सामना करना पड़ा। जब वह साल 1962 में रिटायर्ड हुए तब वह सबसे ज्यादा रन और शतक बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज थे। उनका यह रिकॉर्ड उनके संन्यास लेने के 16 साल बाद सुनिल गावस्कर ने तोड़ा। 

पॉली उमरीगर को हम 10 में से 6 अंक देते हैं।

9. विजय हजारे:

 Best Test Match Indian cricketer of all time
फोटो साभार: www.worldblaze.in

साल 1946 में भारतीय टीम की ओर से बतौर टेस्ट खिलाड़ी पदार्पण करने वाले विजय हजारे ने साल 1947 में ऑस्ट्रेलिया गई भारतीय टीम की ओर से जबरदस्त बल्लेबाजी की और सभी का दिल जीता। जब उन्होंने पदार्पण किया तब उनकी उम्र 31 साल थी इसलिए उनका करियर महज 6 सालों तक ही खिंच पाया। वह अपने समय में भारतीय टीम के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज थे। हजारे प्रथम श्रेणी क्रिकेट में भी उच्च श्रेणी के बल्लेबाज थे। साल 1943- 44 के घरेलू सीजन में हजारे ने 4 प्रथम श्रेणी मैचों में 1,000 रन बना डाले थे।

विजय हजारे को हम 10 में से 6.2 अंक देते हैं।

8. मोहम्मद अजहरुद्दीन:

Best Test Match Indian cricketer of all time
फोटो साभार zeenews.india.com

अजहरुद्दीन एक क्लासिक बल्लेबाज थे। क्रिकेटकंट्री के संपादक अभिषेक मुखर्जी के मुताबिक, ‘जिस खूबसूरती से वह अपनी कलाईयों का इस्तेमाल करते थे ऐसा लगता था कि जैसे उनकी कलाईंयों में हड्डियां ही ना हों।’ साल 1984 में भारतीय टीम की ओर से पदार्पण करने वाले अजहर ने पूरे क्रिकेट जगत को थोड़े ही समय में अपनी बल्लेबाजी की मुरीद बना लिया था। अपने शुरुआती दिनों में वह लेग साइड की ओर ज्यादा स्ट्रोक खेला करते थे। बाद में उन्होंने ऑफ साइड के स्ट्रोक में भी सहारत हासिल कर ली और अब वह एक संपूर्ण बल्लेबाज बन गए थे। अजहर ने अपने शुरुआती 3 टेस्ट मैचों में इंग्लैंड के खिलाफ लगातार 3 शतक लगाकर क्रिकेट जगत में अपनी मौजूदगी का एहसास करा दिया था। अजहर ने अपने अंतिम टेस्ट मैच में भी शतक लगाया था।

मोहम्मद अजहरुद्दीन को हम 10 में से 6.9 अंक देते हैं।

7. सौरव गांगुली:

 Best Test Match Indian cricketer of all time
फोटो साभार: aaj.tv

साल 1996 में अपने टेस्ट करियर की शुरुआत करने वाले सौरव गांगुली एक शानदार टेस्ट खिलाड़ी थे। ऑफ साइड में तो उनका कोई जवाब ही नहीं था और यही कारण था कि उनका नाम ‘गॉड आफ ऑफ साइड’ पड़ा। गांगुली ने अपने शुरुआती दौर में ही लॉर्ड्स के मैदान पर शतक लगाकर टीम इंडिया में अपनी जगह पुख्ता की। लेकिन साल 2004 के बाद से वह कई वाद- विवादों में घिर गए और उन्हें बाद में कप्तानी से हटा दिया गया और बाद में टेस्ट टीम से भी उन्हें हटा दिया गया। अंततः साल 2006 में गांगुली ने एक बार फिर से टीम इंडिया में वापसी की और पाकिस्तान के खिलाफ 2007 में दोहरा शतक जड़ दिया। अंततः गांगुली ने साल 2008 में टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

सौरव गांगुली को हम 10 में से 7 अंक देते हैं।

6. वीरेंद्र सहवाग:

Best Test Match Indian cricketer of all time
फोटो साभार: www.sportskeeda.com

वीरेंद्र सहवाग जब तक टेस्ट क्रिकेट खेले उन्होंने अमूमन हर दर्शक को अपनी बल्लेबाजी से इंटरटेन किया और यही कारण है कि उन्हें क्रिकेट का इंटरटेनर कहा जाता है। सहवाग ने टेस्ट मैचों में दो तिहरे शतक अपने नाम किए। दूसरा तिहरा शतक उन्होंने साल 2008 में मुकम्मल किया था, लेकिन इतने साल गुजर जाने के बाद भी आजतक कोई भारतीय बल्लेबाज उनका रिकॉर्ड तोड़ नहीं पाया है। सहवाग के नाम सबसे तेज तिहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड भी दर्ज है।

सहवाग को हम बतौर टेस्ट बल्लेबाज 10 में से 7.1 अंक देते हैं।

5. गुंडप्पा विश्वनाथ:

Best Test Match Indian cricketer of all time
फोटो साभार: www.cricketcountry.com

गुंडप्पा विश्वनाथ अपने स्ट्रोक्स के लिए जाने जाते थे। वह स्पिन और तेज गेंदबाजों दोनों पर एक तरीके से आक्रमण करना खूब जानते थे। साथ ही वह उन पिचों पर भी आसानी से बल्लेबाजी कर जाते थे जहां अन्य बल्लेबाजों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। उनका कलाईयों का इस्तेमाल अपने आपमें जबरदस्त था और यही कारण था कि वह तेज गेंदबाजों को अन्य बल्लेबाजों के मुकाबले ज्यादा अच्छा खेलते थे।

गुंडप्पा विश्वनाथ को हम 10 में से 7.3 अंक देते हैं।

4. वीवीएस लक्ष्मण:

Best Test Match Indian cricketer of all time
फोटो साभार: zeenews.india.com

वीवीएस लक्ष्मण अपनी कलाईयों का बड़ी खूबसूरती से इस्तेमाल करते थे। अपने अभूतपूर्व स्ट्रोकप्ले के चलते उन्होंने एक समय तो खुद सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ दिया था। उनका ऑन साइड में स्ट्रोक खेलने का अंदाज काफी कुछ अजहरुद्दीन से मिलता जुलता था। साथ ही वह ऑफ साइड में भी अच्छे स्ट्रोक लगाते थे। लक्ष्मण ने अमूमन हर टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले देश के खिलाफ सफलता प्राप्त की। जब लक्ष्मण ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्रिकेट खेली तो वह जमकर चले। उन्होंने सबसे अच्छी पारियां विश्व क्रिकेट की सबसे शक्तिशाली टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही खेलीं। वह ऑस्ट्रेलिया के लिए एक समय पर नाइटमेयर बन गए थे और इसी वजह से एक बार ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ ने कहा था, “अगर आपने द्रविड़ को आउट कर लिया, अच्छा है। अगर आपने सचिन को आउट कर लिया, बहुत अच्छा है। लेकिन अगर आपने लक्ष्मण को आउट कर लिया तो ये चमत्कार है।” कोई भी लक्ष्मण के द्वारा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ईडेन गार्डन की पारी नहीं भूल सकता। जहां लक्ष्मण ने आते ही आनन फानन में 281 रन बनाकर टीम इंडिया को हारा हुआ मैच जिता दिया था।

वीवीएस लक्ष्मण को हम 10 में से 7.8 अंक देते हैं।

3. सुनिल गावस्कर:

Best Test Match Indian cricketer of all time
Photo source: Thequint

सुनिल गावस्कर एक जीनियस क्रिकेटर थे। एक सहज और साधारण। उनके 5 फीट 5 इंच लंबे छरहरे बदन में बल्लेबाजी का दानव छुपा हुआ था। वह जिस तरह से पूरे ध्यान के साथ पिच पर बल्लेबाजी करते थे उसी ने उन्हें महान क्रिकेटर बनाया। गावस्कर ने पहली बार टेस्ट में 10,000 रन पूरे किए और यह कारनामा करने वाले वह विश्व के पहले बल्लेबाज बने। अपने समय में वह विश्व के सबसे अच्छे बल्लेबाज माने जाते थे। साल 1971 में भारत के वेस्टइंडीज दौरे के दौरान गावस्कर ने 4 टेस्ट मैचों में 771 रन बनाए थे। इनमें से एक पारी में उन्होंने भारत के कुल स्कोर 387 में से अकेले 212 रन बनाए थे। यही कारण है कि उन्हें आज भी टेस्ट क्रिकेट का बेहतरीन बल्लेबाज माना जाता है।

गावस्कर को हम 10 में से 8 अंक देते हैं।

2. राहुल द्रविड़:

Best Test Match Indian cricketer of all time
फोटो साभार: scripbox.com

राहुल द्रविड़ अपनी योजना और उनको पूरा करने के मामले में लाजवाब थे। उनके स्ट्रोक खेलने का अंदाज अपने आपमें निराला था। वहीं उनकी तकनीकि और टाइमिंग के कहने ही क्या। जो देख ले प्यार में पड़ जाए। राहुल द्रविड़ उन मौकों पर ज्यादा चलते थे जब उनकी टीम को उनकी जरूरत होती थी। साल 2001 में कोलकाता टेस्ट में राहुल द्रविड़ ने 180 रनों की पारी खेली थी और लक्ष्मण(281) के साथ कंधा से कंधा मिलाकर ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का सामना किया था। वहीं साल 2003 में जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया को एडीलेड टेस्ट में हराया तो भारत की जीत की जमीन राहुल द्रविड़ ने ही तैयार की थी। टेस्ट क्रिकेट में वह सचिन के मुकाबले ज्यादा स्थाई और भरोसेमंद थे। सिर्फ एक ही क्षेत्र है जहां सचिन द्रविड़ को पीछे छोड़ गए और वह है रन बनाने के मामले में। वरना इन दोनों बल्लेबाजों के बीच कोई और अंतर नहीं था।

राहुल द्रविड़ को हम 10 में से 9 अंक देते हैं।

1. सचिन तेंदुलकर:

Best Test Match Indian cricketer of all time
फोटो साभार: news18.com

क्रिकेट के महान बल्लेबाजों में से सचिन तेंदुलकर ने वनडे के साथ टेस्ट मैचों में भी कई कीर्तिमान अपने नाम किए। सचिन की बल्लेबाजी तकनीकी अच्छे से अच्छे गेंदबाजों को यह सोचने पर मजबूर कर देती थी कि आखिर गेंद डाले तो कहां डालें। यही कारण था कि सचिन ने अपने करियर में ढेरों रन बनाए और दुनिया के महान बल्लेबाजों में अपने आपको शुमार कर लिया। वहीं रन और शतक बनाने के मामले में उन्होंने दुनिया के दूसरे बल्लेबाजों को कोसों पीछे छोड़ दिया।

सचिन तेंदुलकर को हम 10 में से 9.5 अंक देते हैं।

नोट: 10 में से 10 अंक हम नहीं दे सकते, क्योंकि क्रिकेट की दुनिया में आजतक डॉन ब्रेडमेन के अलावा और कोई क्रिकेटर संपूर्ण नहीं हुआ है।