Cricket amid coronavirus pandemic: What will cricket look like? What will happen to the T20 World Cup and IPL?
(IANS)

कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच वेस्टइंडीज में विंसी टी10 लीग खेली जा रही है। जहां पर खिलाड़ी बिना दर्शकों के खेल रहे हैं, बाउंड्री पर सैनेटाइजर रखे हैं और गेंद पर सलाइवा लगाना बैन है। तो क्या कोरोना वायरस के बाद शुरू होने वाले क्रिकेट की तस्वीर ऐसी होगी। इस महामारी का क्रिकेट के खेल पर कितना प्रभाव पड़ेगा और क्या नए बदलाव करने पड़ सकते हैं, इसकी चर्चा हम यहां करने जा रहे हैं।

क्या विदेशी दौरों पर जाएंगी टीमें?

इस महामारी के फैलने का सबसे बड़ा जरिया विदेशी यात्राएं रही हैं। अंतरराष्ट्रीय सीरीज या आईसीसी टूर्नामेंट के लिए टीमों को दूसरे देश जाना होता है, ऐसे में बोर्ड विदेशी यात्राओं पर क्या फैसला लेंगे ये जानना दिलचस्प होगा। वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड और खासतौर पर कप्तान जेसन होल्डर इसके लेकर बेहद गंभीर हैं।

होल्डर ने साफ कहा है कि उनके किसी भी खिलाड़ियों को टेस्ट सीरीज के लिए इंग्लैंड जाने को लेकर मजबूर नहीं किया जाएगा। हालांकि ब्रिटिश सरकार ने विदेश से आने वालों को 14 दिन के क्वारेंटाइन में रखने का प्रावधान बनाया है। साथ ही ईसीबी ने हैम्पशायर के एजेस बाउल या ओल्ड ट्रैफर्ड जैसे ‘बायो-सिक्योर’ वेन्यू पर मैच खेलने की बात कही है, जहां ऑनसाइट होटल की व्यवस्था भी है।

वहीं पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड इंग्लैंड के दौरे को लेकर विचार-विमर्श कर रहा है। जबकि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पाक और विंडीज टीमों के इंग्लैंड का दौरा पूरा करने के बाद ही यूके जाने का फैसला करेगा।

कोरोना वायरस के बाद कैसे बदलेगी क्रिकेट की सूरत

कोविड-19 महामारी और इसके संक्रमण को देखते हुए आईसीसी पहले ही गेंद पर सलाइवा के इस्तेमाल को बैन करने की तैयारी करने में लगी है। क्रिकेट को दोबारा शुरू करने से पहले सलाइवा बैन के अलावा और भी कई नए नियम बनाए जा सकते हैं।

जुलाई में शुरू होने वाली हर सीरीज का खाली स्टेडियम में खेला जाना तय है। इसके अलावा खिलाड़ियों के विकेट लेने के बाद एक दूसरे से हाथ मिलाने की आदत को बदलना पड़ेगा। माना जा रहा है कि ईसीसी इसे बैन कर सकती है।

काउंसिल खिलाड़ियों के साथ अंपायर्स की सुरक्षा को भी ध्यान में रखे हुए है। इसलिए मैदान पर अंपायर्स के लिए दस्ताने और मास्क पहनना अनिवार्य होगा। साथ ही ओवर के बीच में गेंदबाज अपना स्वेटर या कैप अंपायर को नहीं देंगे।

सबसे बड़ा सवाल- IPL और T20 विश्व कप का क्या होगा

कोरोनावायर का कहर फैलने से पहले भारत में इंडियन प्रीमियर लीग की तैयारी जोरों पर थी लेकिन इस महामारी की वजह से बीसीसीआई को अपने महात्वाकांक्षी टूर्नामेंट के 13वें सीजन को अनिश्चितकाल के लिए रद्द कर दिया।

अब खबर है कि बोर्ड अक्टूबर-नवंबर के विंडो में इस टूर्नामेंट का आयोजन करने पर विचार कर रहा है लेकिन इसमें सबसे बड़ी परेशानी है टी20 विश्व कप जिसका आयोजन इसी विंडो में ऑस्ट्रेलिया में किया जाना है। अब आईसीसी और बीसीसीआई को मिलकर ये तय करना है कि किस टूर्नामेंट का आयोजन कब किया जाय।

महिला क्रिकेट पर क्या प्रभाव

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पर ब्रेक लगने से ठीक पहले महिला क्रिकेट ने टी20 विश्व कप के दौरान एक नई उपलब्धि हासिल की थी। भारत और ऑस्ट्रेलिया टीमों के बीच मेलबर्न में खेले गया महिला टी20 विश्व कप टूर्नामेंट टीवी पर सबसे ज्यादा लोगों ने देखा। लेकिन इसके ठीक बाद कोविड-19 के शुरू होने की वजह के महिला क्रिकेट को बड़ा झटका लगा।

हालांकि ऑस्ट्रेलिया की स्टार ऑलराउंडर एलिस पेरी ने कहा है कि कोरोनावायरस की वजह से महिला क्रिकेट पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा लेकिन इस लंबे ब्रेक के प्रभाव से महिला क्रिकेट अछूता नहीं रह पाएगा।